भारतीय वैज्ञानिक के नाम और उनके आविष्कार | Indian Scientists Name In Hindi

भारतीय वैज्ञानिक के नाम:- भारतीय वैज्ञानिकों ने विभिन क्षेत्रों में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया है। भौतिक विज्ञान हो या रसायन विज्ञान, गणित से लेकर औषधिशास्त्र एवं तकनीक से लेकर अंतरिक्ष तक के क्षेत्र में भारतीय वैज्ञानिकों ने अद्धभुत खोजें की है। सीमित संसाधनों एवं विभिन प्रकार की समस्याओ के बावजूद अपनी प्रतिभा एवं लगन के दम पर भारतीय वैज्ञानिकों ने अपनी प्रतिभा का परिचय दिया है एवं मानवता के हित में अनेक बहुमूल्य अविष्कारों को जन्म दिया है। देश की तकनीकी तरक्की में हमारे वैज्ञानिकों का अमूल्य योगदान है ऐसे में हमे अपने देश के महान वैज्ञानिकों एवं उनके अविष्कारों से परिचित होना आवश्यक है।

भारतीय वैज्ञानिक के नाम
भारतीय वैज्ञानिक के नाम

आज के इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको भारतीय वैज्ञानिक के नाम और उनके आविष्कार (Indian Scientists Name In Hindi) सम्बंधित सम्पूर्ण जानकारी प्रदान करने वाले है। साथ ही इस आर्टिकल के माध्यम से आप विभिन वैज्ञानिकों के अविष्कारों के बारे में अन्य महत्वपूर्ण जानकारी भी प्राप्त कर सकेंगे।

Indian Scientists Name In Hindi

भारतीय वैज्ञानिकों द्वारा विज्ञान के विभिन क्षेत्रों में अपनी प्रतिभा का परिचय दिया गया। विज्ञान के विभिन क्षेत्रों में सीमित संसाधनों के द्वारा भी भारतीय वैज्ञानिकों द्वारा विभिन मौलिक खोजें की गयी है। यहाँ आपको प्रमुख भारतीय वैज्ञानिकों एवं उनके द्वारा की गयी खोजों के बारे में संक्षिप्त जानकारी प्रदान की गयी है :-

वैज्ञानिक का नाम (Scientist name)अनुसंधान क्षेत्र/ अविष्कार (Research Areas/Invention)
चंद्रशेखर वेंकट रमन (भौतिक विज्ञानी)भौतिक विज्ञान के क्षेत्र में प्रकाश किरण सम्बंधित ‘रमन प्रभाव’ (Raman Effects) की खोज
एम. विश्वेश्वरैय्या (अभियंता)सिंचाई साधन, पेयजल सिस्टम एवं अभियांत्रिकी के क्षेत्र में योगदान
एस. चंद्रशेखर (खगोल वैज्ञानिक)अंतरिक्ष विज्ञान में सितारों के द्रव्यमान एवं ब्लैक होल सम्बंधित सैद्धांतिक मॉडल
होमी जहाँगीर भाभा (परमाणु ऊर्जा विज्ञानी)भारत के परमाणु कार्यक्रम के प्रमुख, क्वांटम थ्योरी पर खोज एवं भाभा प्रकीर्णन पर अनुसंधान
जगदीश चंद्र बोस (वनस्पति विज्ञानी, जीवविज्ञानी, पुरातत्व संशोधक, भौतिक विज्ञानी)पेड़ पौधों एवं वनस्पति में जीवन की खोज सम्बंधित अनुसन्धान, रेडियो एवं माइक्रोवेव तरंग पर अनुसंधान, बेतार सम्बंधित सैद्धांतिक कार्य
सत्येंद्रनाथ बोस(भौतिक विज्ञानी तथा गणितज्ञ)क्वांटम मैकेनिक्स का गहन अध्ययन, बोसान कणों की खोज, बोस-आइंस्टीन कंडेंसेट मॉडल निर्मित किया
श्रीनिवास रामानुजन (गणितज्ञ)त्रिकोणमिति पर कार्य, नंबर थ्योरी एवं इनफाइनाइट सीरीज सम्बंधित सूत्र, रामानुजन थीटा एवं रामानुजन प्राइम सम्बंधित गणितीय कार्य
डॉ. एम. एस स्वामीनाथन (वनस्पति विज्ञान विशेषज्ञ एवं अनुवांशिकी विज्ञानी)भारतीय हरित क्रांति के जनक
विक्रम साराभाई (अंतरिक्ष विज्ञानी)अंतरिक्ष विज्ञानी, भारतीय अंतरिक्ष कार्यक्रम के जनक एवं भारत में परमाणु ऊर्जा के स्थापन में योगदान
डॉ.ऐ.पी.जे अब्दुल कलाम (मिसाइल एवं प्रक्षेपण सैटेलाइट विज्ञानी, परमाणु अस्त्र विशेषज्ञ)भारतीय सैटेलाइट प्रक्षेपण एवं मिसाइल कार्यक्रम के प्रमुख, भारतीय परमाणु परिक्षण एवं परमाणु अस्त्र के प्रमुख
भारतीय वैज्ञानिक के नाम

भारतीय वैज्ञानिक के नाम और उनके आविष्कार

भारतीय विज्ञानियों ने विज्ञान के विभिन क्षेत्रों में अपने अनुसंधान एवं नवीन खोजों के माध्यम से देश को गौरन्वित किया है। भारतीय विज्ञानियों द्वारा विभिन क्षेत्रों में की गयी अनुसंधानों के कारण भारत आज विज्ञान के क्षेत्र में अग्रणी देश है। विज्ञान के क्षेत्र में नित नए अनुसंधानों के माध्यम से देश की तकनीकी क्षेत्र में विकास संभव हो सका है। यहाँ आपको भारतीय वैज्ञानिकों के नाम और उनके आविष्कारों सम्बंधित सम्पूर्ण जानकारी प्रदान की गयी है :-

चंद्रशेखर वेंकट रमन (chandrashekhar venkatraman)

CV raman

  • वैज्ञानिक का नाम (Scientist name)- चंद्रशेखर वेंकट रमन
  • अनुसंधान क्षेत्र (Concerned area)- भौतिकी
  • महत्वपूर्ण अनुसंधान/खोजें (Important research/invention)– भौतिकी में रमन प्रभाव की खोज
  • पुरस्कार एवं सम्मान (Awards and Honors)- नोबेल-पुरस्कार (1930), भारत रत्न (1954), फ्रेंक्लिन मैडल, लेनिन पीस प्राइज

वर्णन (Description)- भारत के महान भौतिक विज्ञानी चंद्रशेखर वेंकट रमन का भौतिकी के क्षेत्र में अतुलनीय योगदान है। भौतिकी में रमन प्रभाव (Raman effect) के माध्यम से C. V. रमन ने पदार्थ में प्रकाश के गुजरने एवं इसके प्रकीर्णन सम्बंधित खोज की थी। रमन प्रभाव की खोज के कारण इन्हे वर्ष 1930 में विज्ञान के उच्चतम पुरस्कार नोबेल-पुरस्कार से नवाजा गया था। नोबल पुरस्कार प्राप्त करने वाले ये भारत के प्रथम वैज्ञानिक है।

एम. विश्वेश्वरैय्या (M. Visvesvaraya)

M. Visvesvaraya

  • वैज्ञानिक का नाम (Scientist name)- एम. विश्वेश्वरैय्या
  • अनुसंधान क्षेत्र (Concerned area)- सिंचाई एवं अभियांत्रिकी
  • महत्वपूर्ण अनुसंधान/खोजें (Important research/invention)– सिँचाई एवं अभियांत्रिकी के क्षेत्र में विभिन अनुसंधान
  • पुरस्कार एवं सम्मान (Awards and Honors)- भारत रत्न (1955)

वर्णन (Description)- “भारत के प्रथम अभियंता” के रूप में प्रसिद्ध एम. विश्वेश्वरैय्या एक महान इंजीनियर थे जिन्होंने भारत के विकास में अपनी अभियांत्रिकी कौशल का उपयोग करके विभिन महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट्स को पूरा किया। मैसूर शहर को बाढ़ से बचाने के लिए निर्माण सहित विशाखापट्नम बंदरगाह को अपरदन से रक्षा हेतु उनके द्वारा आश्चर्यजनक अभियांत्रिकी कौशल का परिचय दिया गया। सिंचाई, पेयजल एवं ड्रेनेज सिस्टम सहित विभिन इंस्टीटूशन की स्थापना के लिए विख्यात एम. विश्वेश्वरैय्या के जन्मदिवस को अभियंता दिवस (Engineer’s Day) के रूप में मनाया जाता है।

एस. चंद्रशेखर (S. Chandrasekhar)

S. Chandrasekhar

  • वैज्ञानिक का नाम (Scientist name)- एस. चंद्रशेखर
  • अनुसंधान क्षेत्र (Concerned area)- खगोल विज्ञान (Astrophysics)
  • महत्वपूर्ण अनुसंधान/खोजें (Important research/invention)– भौतिकी में चंद्रशेखर सीमा की खोज
  • पुरस्कार एवं सम्मान (Awards and Honors)- नोबेल-पुरस्कार (1983), पदम् विभूषण (1968), रॉयल मैडल, ब्रूस मैडल

वर्णन (Description)- भारत के खगोल विज्ञानी एस. चंद्रशेखर का खगोल-विज्ञान के क्षेत्र में विभिन खोजों के लिए महत्वपूर्ण स्थान है। उनके द्वारा सितारों की रिसर्च में खोजी गयी चंद्रशेखर सीमा (the Chandrasekhar limit) महत्वपूर्ण योगदान है जिसके माध्यम से उन्होंने सितारों के द्रव्यमान सम्बंधित खोजे की थी। अपने अनुसंधान के लिए इन्हे वर्ष 1983 में नोबेल-पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।

डॉ. होमी जहाँगीर भाभा (Dr. Homi Jehangir Bhabha)

Dr. Homi Jehangir Bhabha

  • वैज्ञानिक का नाम (Scientist name)- डॉ. होमी जहाँगीर भाभा
  • अनुसंधान क्षेत्र (Concerned area)- परमाणु ऊर्जा
  • महत्वपूर्ण अनुसंधान/खोजें (Important research/invention)– क्वांटम थ्योरी पर खोज एवं भाभा प्रकीर्णन सम्बंधित अनुसंधान
  • पुरस्कार एवं सम्मान (Awards and Honors)- पदम् भूषण (1954), एडम प्राइज

वर्णन (Description)- भारत के “परमाणु कार्यक्रम के पितामाह” के रूप में प्रसिद्ध डॉ. होमी जहाँगीर भाभा का भारत को परमाणुशक्ति संपन्न देश बनने में अहम् भूमिका है। आजादी के बाद ही दूरदर्शी परमाणु ऊर्जा विज्ञानी डॉ. होमी जहाँगीर भाभा ने देश के परमाणु कार्यक्रम को शुरू करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभायी थी जिसके परिणामस्वरूप भारत ने परमाणु ऊर्जा के क्षेत्र में उल्लेखनीय तरक्की की है। डॉ. होमी जहाँगीर भाभा द्वारा भाभा एटॉमिक रिसर्च सेंटर (BARC) एवं टाटा इंस्टिट्यूट ऑफ़ ऑफ़ फंडामेंटल रिसर्च स्थापित किया गया था।

जगदीश चंद्र बोस (Jagadish Chandra Bose)

Jagadish Chandra Bose

  • वैज्ञानिक का नाम (Scientist name)- जगदीश चंद्र बोस
  • अनुसंधान क्षेत्र (Concerned area)- वनस्पति विज्ञान, भौतिकी एवं बेतार
  • महत्वपूर्ण अनुसंधान/खोजें (Important research/invention)– पौधों में जीवन सम्बंधित खोज, बेतार एवं माइक्रोवेव तरंग, रेडियो सम्बंधित अनुसन्धान
  • पुरस्कार एवं सम्मान (Awards and Honors)- Companion Order of the Indian Empire, Fellow of the Royal Society

वर्णन (Description)- पूर्व में पेड़-पौधों के निर्जीव होने की धारणा को तोड़ने वाले महान वनस्पति विज्ञानी जगदीश चंद्र बोस ने अपनी खोजों से सिद्ध किया था की पेड़-पौधों एवं वनस्पतियों में भी जीवन होता है। पेड़-पौधों की वृद्धि को मापने के लिए इनके द्वारा क्रेस्कोग्राफ (crescograph) नामक यन्त्र का अविष्कार किया गया था। वनस्पति विज्ञान के अतिरिक्त भौतिकी के क्षेत्र में भी इनका योगदान उल्लेखनीय है। भौतिकी में बेतार संचार एवं रेडियो सम्बंधित इनकी खोजे अनेक अविष्कारों का आधार है।

सत्येंद्रनाथ बोस (Satyendra Nath Bose)

Satyendra Nath Bose

  • वैज्ञानिक का नाम (Scientist name)- सत्येंद्रनाथ बोस
  • अनुसंधान क्षेत्र (Concerned area)- सैद्धांतिक भौतिकी एवं गणित (theoretical physics and mathematics)
  • महत्वपूर्ण अनुसंधान/खोजें (Important research/invention)– बोसान की खोज, बोस-आइंस्टीन समीकरण
  • पुरस्कार एवं सम्मान (Awards and Honors- पदम् विभूषण (1954), Fellow of the Royal Society

वर्णन (Description)- क्वांटम मैकेनिक्स में विभिन आधारभूत खोजें करने वाले महान भौतिक विज्ञानी सत्येंद्रनाथ बोस क्वांटम स्टैटिक्स के क्षेत्र में प्रमुख अनुसंधानकर्ता माने जाते है। प्रसिद्ध वैज्ञानिक अल्बर्ट आइंस्टीन के साथ मिलकर इन्होने बोस-आइंस्टीन कन्डेंसेंस (Bose–Einstein condensate (BEC) की खोज की थी जिसे की पदार्थ की पाँचवी अवस्था भी माना जाता है।

श्रीनिवास रामानुजन (Srinivasa Ramanujan)

Srinivasa Ramanujan

  • वैज्ञानिक का नाम (Scientist name)- श्रीनिवास रामानुजन
  • अनुसंधान क्षेत्र (Concerned area)- गणित
  • महत्वपूर्ण अनुसंधान/खोजें (Important research/invention)– π (पाई) एवं त्रिकोणमिति पर कार्य, नंबर थ्योरी एवं इनफाइनाइट सीरीज
  • पुरस्कार एवं सम्मान (Awards and Honors)- Fellow of the Royal Society

वर्णन (Description)- भारत के सुदूर दक्षिणी भाग में जन्मे महान गणितज्ञ श्रीनिवास रामानुजन ने गणित के क्षेत्र में कई महत्वपूर्ण सूत्र एवं नियमों की खोज की थी। ब्रिटिश शासन के समय जब गणित का केंद्र यूरोप माना जाता था ऐसे समय पर भारतीय गणितज्ञ श्रीनिवास रामानुजन की प्रतिभा से प्रभावित होकर उन्हें कैंब्रिज विश्वविद्यालय में आमंत्रित किया गया था। अपने जीवनकाल में रामानुज द्वारा विभिन सूत्रों की रचना की गयी जिन्हे हल करना आज भी गणितज्ञों के मध्य चुनौती बनी हुयी है।

डॉ. एम. एस स्वामीनाथन (M. S. Swaminathan)

M. S. Swaminathan

  • वैज्ञानिक का नाम (Scientist name)- डॉ. एम. एस स्वामीनाथन
  • अनुसंधान क्षेत्र (Concerned area)- अनुवांशिकी एवं कृषि
  • महत्वपूर्ण अनुसंधान/खोजें (Important research/invention)– हरित क्रांति के जनक
  • पुरस्कार एवं सम्मान (Awards and Honors)- पदम् विभूषण (1989), रमोन मैग्सैसे अवार्ड, UNESCO महात्मा गाँधी स्वर्ण पदक(1999)

वर्णन (Description)- हरित क्रांति के जनक कहे जाने वाले महान कृषि विज्ञानी डॉ. एम. एस स्वामीनाथन ने हरित क्रांति के माध्यम से देश में खाद्य सुरक्षा को सुनिश्चित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभायी है। हरित क्रांति में उच्च-उत्पादन क्षमता वाले गेहूँ एवं चावल के बीज तैयार करने के कारण डॉ. एम. एस स्वामीनाथन को हरित क्रांति का जनक कहा जाता है।

विक्रम साराभाई (Vikram Sarabhai)

Vikram Sarabhai

  • वैज्ञानिक का नाम (Scientist name)- विक्रम साराभाई
  • अनुसंधान क्षेत्र (Concerned area)- अंतरिक्ष
  • महत्वपूर्ण अनुसंधान/खोजें (Important research/invention)– ISRO की स्थापना में महत्वपूर्ण योगदान
  • पुरस्कार एवं सम्मान (Awards Honors)- पदम् विभूषण (1972), पदम् भूषण (1966)

वर्णन (Description)- भारत के अंतरिक्ष कार्यक्रम के पितामाह कहे जाने वाले विक्रम साराभाई का भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन की स्थापना में महत्वपूर्ण योगदान है। भारत के अंतरिक्ष कार्यक्रम के पथप्रदर्शक के रूप में विख्यात विक्रम साराभाई द्वारा भारत के अंतरिक्ष कार्यक्रम का लम्बे समय तक संचालन किया गया।

मेघनाद साहा (Meghnad Saha)

Meghnad Saha

  • वैज्ञानिक का नाम (Scientist name)- मेघनाद साहा
  • अनुसंधान क्षेत्र (Concerned area)- खगोल विज्ञान (Astrophysics)
  • महत्वपूर्ण अनुसंधान/खोजें (Important research/invention)– साहा आयनीकृत समीकरण
  • पुरस्कार एवं सम्मान (Awards and Honors)- ग्रीफित पुरस्कार, Fellow of the Royal Asiatic Society of London

वर्णन (Description)- प्रसिद्ध खगोल विज्ञानी मेघनाद साहा द्वारा भारत के खगोल कार्यक्रम में महत्वपूर्ण योगदान दिया गया है। मेघनाद साहा द्वारा सितारों के भौतिक एवं रासायनिक गुणों के अनुसन्धान के लिए “साहा आयनीकृत समीकरण” दी गयी थी जिसके माध्यम से खगोल विज्ञान को महत्वपूर्ण गति मिली थी।

डॉ. येल्लाप्रगदा सुब्बाराव (Dr. Yellapragada Subbarow)

Dr. Yellapragada Subbarow

  • वैज्ञानिक का नाम (Scientist name)- डॉ. येल्लाप्रगदा सुब्बाराव
  • अनुसंधान क्षेत्र (Concerned area)- जैवरसायन (Biochemistry)
  • महत्वपूर्ण अनुसंधान/खोजें (Important research/invention)– पेशीय गतिविधियों में ATP एवं फोस्फोक्रेटीन का योगदान
  • पुरस्कार एवं सम्मान (Awards and Honors)- —-

वर्णन (Description)- भारत में दवाओं का चमत्कारिक व्यक्ति के नाम से प्रसिद्ध डॉ. येल्लाप्रगदा सुब्बाराव का जैवरसायन के क्षेत्र में महत्वपूर्ण योगदान है। कोशिका में ATP कार्यविधि खोजने के लिए इन्हे जैवरसायन क्षेत्र में महत्वपूर्ण विज्ञानी के रूप में उपाधि प्राप्त है। साथ ही कैंसर के उपचार के लिए भी इनके द्वारा महत्वपूर्ण योगदान दिया गया है।

डॉ.ऐ.पी.जे अब्दुल कलाम (A. P. J. Abdul Kalam)

A. P. J. Abdul Kalam

  • वैज्ञानिक का नाम (Scientist name)- डॉ.ऐ.पी.जे अब्दुल कलाम
  • अनुसंधान क्षेत्र (Concerned area)- मिसाइल एवं प्रक्षेपास्त्र क्षेत्र, परमाणु क्षेत्र
  • महत्वपूर्ण अनुसंधान/खोजें (Important research/invention)– SLV प्रक्षेपास्त्र का विकास, भारत के परमाणु कार्यक्रम एवं मिसाइल कार्यक्रम के क्षेत्र में अनुसंधान
  • पुरस्कार एवं सम्मान (Awards and Honors)- भारत रत्न (1997), पदम् विभूषण (1990)

वर्णन (Description)- भारत-रत्न पुरस्कार प्राप्तकर्ता डॉ.ऐ.पी.जे अब्दुल कलाम को मिसाइल मैन ऑफ़ इंडिया (missile man of india) के खिताब से नवाजा जाता है। भारत के मिसाइल कार्यक्रम के अध्यक्ष रहे डॉ.ऐ.पी.जे अब्दुल कलाम के नेतृत्व में भारत ने विभिन स्वदेशी मिसाइल का निर्माण करके भारत को रक्षा क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में महत्वपूर्ण कार्य किया है। भारत के परमाणु कार्यक्रमों में भी इनकी महत्वपूर्ण भूमिका रही है। भारत के राष्ट्रपति रह चुके डॉ.ऐ.पी.जे अब्दुल कलाम एक महान वैज्ञानिक होने के साथ-साथ कवि, संगीतकार एवं दार्शनिक भी है।

इस प्रकार से इस आर्टिकल के माध्यम से आपको भारत के वैज्ञानिकों के नाम एवं उनके द्वारा किए गए सभी महत्वपूर्ण अनुसंधानों के बारे में जानकारी प्रदान की गयी है।

भारतीय वैज्ञानिक के नाम और उनके आविष्कार सम्बंधित प्रश्नोत्तर (FAQ)

चंद्रशेखर वेंकट रमन द्वारा किस क्षेत्र में अनुसंधान किया गया है ?

भारत के प्रसिद्ध भौतिक विज्ञानी चंद्रशेखर वेंकट रमन द्वारा भौतिकी के क्षेत्र में अनुसंधान किया गया है। भौतिकी में रमन प्रभाव के लिए इन्हे वर्ष 1930 में नोबेल-पुरस्कार से भी नवाजा जा चुका है।

अभियंता दिवस कब मनाया जाता है ?

अभियंता दिवस भारत के महान अभियंता एम. विश्वेश्वरैय्या के जन्मदिवस पर 15 सितम्बर को मनाया जाता है।

भारतीय वैज्ञानिकों के नाम और उनके आविष्कार सम्बंधित जानकारी प्रदान करें ?

भारतीय वैज्ञानिको के नाम और उनके आविष्कार जानकारी प्राप्त करने के लिए ऊपर दिया गया आर्टिकल पढ़े। इसके माध्यम से आपको भारत के महान वैज्ञानिको एवं इनके अविष्कारों सम्बंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान की गयी है।

पेड़-पौधों में जीवन सम्बंधित खोज किस वैज्ञानिक से की थी ?

पेड़-पौधों में जीवन सम्बंधित खोज महान वनस्पति विज्ञानी जगदीश चंद्र बोस द्वारा की गयी थी।

मिसाइल मैन ऑफ़ इंडिया (missile man of india) किस महान वैज्ञानिक को कहा जाता है ?

भारत-रत्न पुरस्कार प्राप्तकर्ता डॉ.ऐ.पी.जे अब्दुल कलाम को मिसाइल मैन ऑफ़ इंडिया (missile man of india) के नाम से भी जाना जाता है।

भारत में हरित क्रांति का जनक किसे कहा जाता है ?

भारत में हरित क्रांति का जनक डॉ. एम. एस स्वामीनाथन को कहा जाता है।

Leave a Comment