10 Best होली पकवान 2022 – सामग्री, बनाने की विधि

जल्द ही रंगो का त्यौहार होली आने वाला है। ऐसे में लोग इसे लेकर तरह-तरह की तैयारियों में व्यस्त हो गए है। बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक होली पूरे देश में धूमधाम से मनाया जाता है। पौराणिक कथा के अनुसार असुर दैत्य हिरण्यकश्यप द्वारा अपने ज्येष्ठ पुत्र प्रह्लाद जो की भगवान् विष्णु का अनन्य भक्त था को मारने के लिए विभिन प्रकार के षड्यंत्र रचे गए परन्तु हर बार प्रह्लाद भगवान की कृपा से बच जाता था। आखिर में हिरण्यकश्यप द्वारा अपनी बहन होलिका जिसे की आग में ना जलने का वरदान था की गोद में प्रह्लाद को बैठाकर जलती चिता पर बैठा दिया गया। फिर से भगवान् द्वारा प्रह्लाद की रक्षा की गयी और होलिका आग में जलकर भस्म हो गयी तभी से होलिका दहन की प्रथा प्रचलित हुई। होलिका दहन के अगले दिन होली का त्यौहार मनाया जाता है। देश के विभिन भागो में होली अलग-अलग तरीके से होली मनाई जाती है जिनमे से ब्रज के बरसाना गाँव की लठमार होली सबसे प्रसिद्ध होती है। इसके अलावा मथुरा, वृंदावन और देश के अलग-अलग भागों में मनाई जाने वाली होली भी बहुत प्रसिद्ध है जिसे देखने के लिए दुनिया के कोने-कोने से लोग जुटते है। होली हो और पकवानो की बात ना हो ये तो हो ही नहीं सकता। बिना पकवानों के होली ऐसे ही है जैसे बिना रंगो की होली। देश के कोन-कोने में होली पर विभिन प्रकार के व्यंजन बनाये जाते है जो की अपने स्वाद के लिए जाने जाते है। आज हम आपको बताने वाले है 10 ऐसे ही प्रसिद्ध व्यंजनों की रेसिपी के बारे में जो आपकी होली के स्वाद को कई गुना बढ़ा देंगे तो चलिए शुरू करते है।

10 Best Holi Dishes, Know the recipe
10 Best Holi Dishes, Know the recipe

होली की शान गुझिया बनाने की विधि

होली पर आप कोई और व्यंजन बनायें या ना बनायें परन्तु एक चीज जो की पूरे देश में होली की पहचान मानी जाती है गुझिया जरूर बनाएंगे। गुझिया कई तरह की होती है जो की उसके अंदर भरी जाने वाली सामग्री पर निर्भर करती है जैसे मेवा गुझिया, सेब गुझिया, अंजीर गुझिया, केसर गुझिया, पिस्ता गुझिया, बादाम गुझिया और मावा इलायची भरी गुझिया। तो चलिए जानते है मेवा गुझिया बनाने की विधि

  • आवश्यक सामग्री
    • आटा लगाने के लिए
      • मैदा – 2 कप या (250 ग्राम)
      • घी- गुजिया को तलने के लिए
      • घी – आटा को गूंथनेऔर गुजिया को तलने के लिए
    • स्टफिंग के लिए सामग्री
      • मावा – 100 ग्राम
      • किशमिश – 1 टेबल स्पून
      • इलायची – 4 से 5
      • काजू – 1 टेबल स्पून
      • चिरौंजी – 1 टेबल स्पून
      • चीनी पाउडर -1/2 कप (80 ग्राम)
      • सूखा गोला – कद्दूकस किया हुआ 2 टेबल स्पून
Gujhiya
Gujhiya Recipe
  • बनाने की विधि :- मावा गुझिया बनाने के लिए सबसे पहले मैदे में ¼ कप घी को अच्छे से मिक्स कर ले और इसमें थोड़ा-थोड़ा पानी डालकर पूरी बनाने से भी सख्त आटा गूँथ ले। फिर इसे धीरे-धीरे से मसलकर चिकना बनायें और 20 मिनट तक ढ़काकर रखे। इसके बाद स्टफ़िंग तैयार करने के लिए मावा को मध्यम आँच में भूरा होने तक भूनते रहे। फिर इसे प्याले में निकालकर ठंडा होने दे। ठंडा होने के बाद मावा में किशमिश, काजू, नारियल, चीनी, इलाइची और चिरौंजी को अच्छे से मिला ले। इसके बाद आपकी गुझिया की स्टफ़िंग तैयार है। अब आप गुथे हुये आटे की 4 से 4.5 इंच के व्यास तक की पूरी बनाकर इसमें गुझिया की सामग्री भर दीजिये और इसके किनारों पर पानी लगाकर इसे सांचे में आकार दे दें। इसके बाद कढ़ाई में घी गरम करके धीमी मध्यम आँच पर इसमें गुझिया डाले और भूरी होने तक इसे पकाते रहे। इसके बाद इन्हे निकालकर एयर टाइड कंटेनर में रहे ताकि आप इनका लम्बे समय तक आनंद ले सके।

इमरती घोले होली में मिठास

इमरती को वैसे तो हर त्यौहार के मौके पर बड़े चाव से खाया जाता है परन्तु होली में लोग इसे खाना विशेष पसंद करते है। इमरती कुछ हद तक जलेबी की तरह लगती है और यह स्वाद में भी मीठी होती है ऐसे में होली पर यह बेहतर ऑप्शन है।

  • आवश्यक सामग्री
    • धुली उड़द दाल (1 कप)
    • चावल (3 बड़े चम्मच)
    • नारंगी खाने वाला रंग (1 चुटकी)
  • चाशनी बनाने के लिए आवश्यक सामग्री
    • चीनी (3 कप)
    •  पानी डेढ़ कप
    • इलायची पाउडर (1 छोटा चम्मच)
    • तलने के लिए घी आवश्यकतानुसार
  • सजावट के लिए सामग्री
    • चांदी का वर्क आवश्यकतानुसार
    • बारीक कटा हुआ पिस्ता (1/2 बड़ा चम्मच)
Imarti Recipe
Imarti Recipe
  • बनाने की विधि :– सबसे पहले उड़द की दाल को अच्छी तरह से धोकर 3 घंटे तक पानी में भिगोकर रख दे साथ ही चावलों को भी धोकर 3 घंटे के लिए पानी में भिगोने के लिए रख दे। इसके बाद इन्हे निकालकर आधा कप पानी में अच्छे से ग्राइंड कर ले। इस तरह से आपका दाल और चावल का मिश्रण तैयार हो गया है। इसके बाद इसमें खाने वाला नारंगी कलर मिला ले और इसे 5-10 मिनट तक के लिए ऐसे ही छोड़ दे। इसके बाद चाशनी बनाने के लिए एक पैन में डेढ़ कप पानी में 3 कप चीनी मिलाकर इसे धीमी आंच पर पकाएं और अंत में इसमें इलायची पाउडर मिला ले। इसके बाद एक कढ़ाई में घी गर्म कर ले और एक कपडे में बीच में छेद करके उसमे इमरती का पेस्ट भरकर धीरे-धीरे तलने के लिए डाले। इन्हे तब तक तलते रहे जब तक की ये कुरकुरे ना हो जाये। इसे चाँदी का वर्क या पिस्ता के साथ सजाकर परोस सकते है।

मावा पेड़े बनाने में आसान

होली में अगर आप जल्दी से कोई डिश बनाना चाहते है तो मावा पेड़े इसी श्रेणी में आने वाली मिठाई है। इसके लिए आपको अधिक समय भी नहीं लगेगा।

  • आवश्यक सामग्री
    • मावा  – 300 ग्राम (डेढ़ कप)
    • घी – 1 टेबल स्पून
    • इलाइची – 10 
    • पिस्ते – 10 से 12  
    • तगार या बुरा –  1 कप
Mawa pede Recipe
Mawa pede Recipe
  • बनाने की विधि :- सबसे पहले मावा को हल्की आँच पर भूनिये। इसके लिए मावा में घी मिलकर इसे कलछी से हल्का-हल्का गुलाबी होने हिलाते रहे और इसके बाद इसे ठंडा होने दीजिये। इसके बाद इसमें इलायची पाउडर, पिस्ता और तगार को मिलकर इसका पेस्ट बने ले। अब आपका मिश्रण तैयार है। अपने हाथो में इस मिश्रण को लेकर गोल और चपटा करे और इसे सही आकार दे दे। इसके बाद आप आप फिनिशिंग के लिए पिस्ता और इलायची के दानो को लेकर इसके ऊपर हलके हाथो से दबा दे। इस तरह से आपके मावा पेड़े तैयार है।

 घेवर है स्वाद का राजा

होली में घेवर को लोग चाव से खाना पसंद करते है ऐसे में अगर आप भी मेहमानो को घेवर का स्वाद चखाना चाहते है तो होली में आसानी से घर में ही इसे तैयार कर सकते है।

  • आवश्यक सामग्री
    • मैदा – 250 ग्राम (2 कप)
    • दूध – 50 ग्राम (1/4 कप)
    • घी –  50 ग्राम ( 1/4 कप)
    • पानी – 800 ग्राम ( 4 कप)
    • घी, तेल – घेवर को तलने के लिये
  • चाशनी बनाने के लिए सामग्री
    • चीनी – 400 ग्राम या (2 कप)
    • पानी – 200 ग्राम या (1 कप)
ghevar Recipe
ghevar Recipe
  • बनाने की विधि :-सबसे पहले किसी बर्तन में मैदा छान कर रख लीजिये और इसके बाद घी में बर्फ के टुकड़े मिलाकर इसे एकदम चिकनी होने तक क्रीम को फेंटते रहिये। इसके बाद बर्फ के टुकड़े हटा दे।अब आप इस मिश्रण में थोड़ा-थोड़ा मैदा मिलाते रहे। इसके बाद जब यह गाढ़ा हो जाये तो इसमें दूध मिला ले साथ ही पानी डालकर इसे धीरे-धीरे घोलते रहे। इसमें लास्ट में बटर मिला ले साथ ही लगातार इस मिश्रण को फेंटते जाईये। जब घोल चिकना हो जाये तो समझ ले की अब मिश्रण घेवर बनाने के लिए तैयार है। इसके बाद घेवर बनाने की कढ़ाई में घी गर्म करे और इसमें चमचे में भरकर घोल को पतली धार बनाते हुए डाले। इसके बाद जब इसमें झाग आना बंद हो जाए तो दूसरी परत डाले। इसी तरह से आप सही आकार आने तक इस प्रक्रिया को दोहराते रहे। घेवर को हल्का भूरा होने तक पकायें और इसके बाद इसे थाली में निकालकर इसे एक के ऊपर एक रख दे। इस तरह से आपका घेवर तैयार है।

बेसन की बर्फी है स्वाद से भरपूर

बेसन के लड्डू तो आपने बहुत बार खाये होंगे परन्तु अगर बाते करे बेसन की बर्फी की तो यह भी स्वाद में अच्छी-अच्छी मिठाईयों को मात देती है। ऐसे में होली में बेसन की बर्फी बुरा आईडिया नहीं है। चलिए जानते है:-

  • आवश्यक सामग्री
    • बेसन -250 ग्राम (2 कप)
    • दूध – 2 टेबल स्पून
    • देशी घी – 200 ग्राम (1 कप)
    • पिस्ते – 1 टेबल स्पून
    • काजू – 2 टेबल स्पून
    • छोटी इलाइची – 4
    • चीनी – 1 कप फुल भरा हुआ (250 ग्राम)
Besan Barfi Recipe
Besan Barfi Recipe
  • बनाने की विधि :- सबसे पहले बेसन को 2 टेबल स्पून घी और दूध के साथ मिलाकर छलनी से छान ले। इसके बाद इस मिश्रण से बेसन का दाना तैयार कर लीजिये। काजू को 6 से 8 टुकड़ो में काटे और पिस्ता को भी बारीक़ स्लाइस में काट दे। इसके बाद इलायची को बाहरी छिलके को उतारकर इसका पाउडर तैयार कर ले। अब आप बेसन पाउडर को घी में हल्का भूरा होने तक भून ले और जब बेसन दाना घी से अलग हो जाए तो समझ ले की आपका मिश्रण तैयार है। चाशनी बनाने के लिए आधे कप पानी में चीनी का घोल डाले और इसे अच्छे से पका ले। अब चाशनी में बेसन दाने को डालकर पका दे और इसमे इलायची और काजू के टुकड़े मिला ले। इसके बाद इसे ट्रे या प्लेट में डालकर एक जैसे फैला दे। 1 से 2 घंटो के बीच आपकी बर्फी जमकर तैयार हो जाती है। इसके बाद आप उसे मनचाहे टुकड़ो में काटकर इसका आनंद ले सकते है।

सदाबहार है बेसन के लड्डू

वैसे तो बेसन के लड्डू आपको हर मौके पर ही खाने को मिलते है लेकिन होली पर भी इनका स्वाद आपके मेहमानो में मुँह में मिठास घोल सकता है। इसे बनाने के लिए ना तो ज्यादा सामग्री की जरूरत होती है और ना ही इसमें अधिक समय लगता है।

  • आवश्यक सामग्री
    • बेसन -200 ग्राम (2 कप)
    • घी -200 ग्राम (1 कप)
    • काजू – 25 (40 ग्राम)
    • पिस्ते – गार्निश के लिए
    • तगार -225 ग्राम (1.5 कप)
    • बादाम – 25 (लगभग 40 ग्राम)
    • इलायची पाउडर – ½ छोटी चम्मच
Besan ke laddu
Besan ke laddu
  • बनाने की विधि :- सबसे पहले कढ़ाई में घी गर्म करके इसमें बेसन को भूरा होने तक भून ले। जब इसमें भूरा कलर आने लगे तो इसमें पानी के छींटे मार दे ताकि बेसन के दाने बनाने में आसानी हो। जब इसमें झाग आना बंद हो जाए तो इसे बंद करके ठंडा होने के लिए छोड़ दे। ठंडा होने के बाद इसमें बारीक़ कटे हुए बादाम और काजू डाल दे साथ ही इसमें बूरा(तगार) और इलायची पाउडर को भी अच्छे से मिक्स कर दे। अब आप इस मिश्रण से अपनी मनपसंद साइज के लड्डू बना सकते है। लड्डू बनाने के बाद इसे 6 से 7 घंटो तक खुले में रख से ताकि इनकी नमी कम हो जाए। इसके बाद आप इनका आनंद ले सकते है। आप चाहे तो इन्हे एयर टाइड कंटेनर में भरकर लम्बे समय तक के लिए भी सुरक्षित रख सकते है ताकि आप जब मर्जी ही इनका आनंद ले सके।

बालूशाही बनाये होली को और भी रंगीन

बालूशाही खाने में तो स्वादिष्ट होती ही है साथ ही इसमें मावा का यूज़ भी नहीं किया जाता ऐसे में मिलावट से बचने के लिए यह बेहतर विकल्प है। बाजार से बालूशाही खरीदने के बजाय अगर आप घर पर ही बालूशाही तैयार करे तो इससे आपको बहुत फायदा होगा। तो चलिए जानते है कैसे घर पर ही तैयार कर सकते है स्वादिष्ट बालूशाही

  • आवश्यक सामग्री
    • मैदा -4 कप (500 ग्राम)
    • बेकिंग सोडा – 1/2 चम्मच
    • चीनी – 3 कप (600 ग्राम)
    • दही – 1/2 कप
    • घी तलने के लिये
    • घी – 3/4 कप (150 ग्राम ) मैदा के मिश्रण के लिए
Balushahi Recipe
Balushahi Recipe
  • बनाने की विधि :-सबसे पहले मैदे को बेकिंग सोडा, घी और दही में मिलाकर हल्के गुनगुने पानी से गूथ लीजिये। हालांकि ध्यान रखे की इसे अधिक ना गुँथकर बस हल्का सा इकठा कर ले। इसके बाद इसे 20 मिनट तक छोड़ दे। अब आप इस आटे से गोल-गोल नींबू के आकार की लोइयाँ बनाकर इन्हे बीच से दबाकर बालूशाही का आकार दीजिये। इसी तरह अन्य लोइयाँ भी बनाइये। अब आपकी बालूशाही तले जाने के लिए तैयार है। इन्हे तलने के लिए कढ़ाई में घी गर्म करे और इसके बाद एक-एक करके सभी बालूशाहियो को इसमें भूरा होने तक तलते रहे और इन्हे प्लेट में निकालकर रख ले। चाशनी बनाने के लिए 300 ग्राम पानी में 600 ग्राम चीनी को अच्छे से पकाये। इसके बाद इसमें तली हुयी बालूशाही को 5 मिनट तक डुबोकर रखे और इसके बाद निकाल कर इन्हे प्लेट में डाल दे। इन्हे तब तक बाहर रखे जब तक की इनकी चाशनी ना सूख जाए। इसके बाद आप इन्हे मेहमानो को परोस सकते है।

केसर मलाई के लड्डू है लाजवाब

केसर-मलाई के लड्डू को बनाने की कई विधियाँ है। वैसे अगर इसके पारम्परिक तरीके से बनाया जाए तो इसमें पनीर के मिश्रण के साथ इसे तैयार किया जाता है वही कुछ लोग इसे मावा के साथ बनाना भी पसंद करते है। पनीर के साथ इसका स्वाद कई गुना बढ़ जाता है ऐसे में पनीर केसर मलाई के लड्डू बनाने के लिए बेहतर विकल्प है। चलिए जानते है इसे बनाने की विधि

  • आवश्यक सामग्री
    • पनीर – 2 कप (400 ग्राम)
    • पाउडर चीनी – 1 कप (200 ग्राम)
    • काजू – 2 टेबल स्पून
    • छोटी इलाइची – 4-5 छीली हुई
    • घर की मलाई – एक कप (200 ग्राम)
    • पिस्ता -10 बारीकी से कतरे हुये
    • केसर – 25-30 धागे और एक पीला कलर (पिंच)
kesar malai laddu
kesar malai laddu
  • बनाने की विधि :- सबसे पहले कढ़ाई में मलाई डालकर इसे भूरा होने तक लगातार हिलाते रहे। जब यह गाढ़ी होने लगे तो इसमें कद्दूकस किये हुये पनीर को डालकर भूनना शुरू कर दे। जब यह मिश्रण भी गाढ़ा होने लगे तो इसमें दूध के साथ मिलायी हुई केसर की फांको के मिश्रण को डाल दे और इसे भी कुछ देर तक भूनें। इसके बाद लड्डू को कलर देने के लिए इसमें 1 पिंच पीला कलर दूध के साथ डालकर मिलाये और इसे फिर से गाढ़ा होने तक भूनते रहे। जब यह अच्छी तरह से भून जाए तो इसे किसी थाली में निकाल दे और हल्का गर्म होने पर इसमें चीनी का पाउडर और काजू के टुकड़े मिला दे। अब आपके मलाई केसर लड्डू बनने के लिए तैयार है। आप इन्हे अपनी मर्जी के अनुसार मनचाहे आकार के साइज में ढाल सकते है और इसके बाद इन पर इलाइची और पिस्ते को चिपकाकर सर्व कर सकते है। आप चाहे तो इन्हे काजू या बादाम जैसे ड्राई फ्रूट का फिनिश भी दे सकते है ताकि ये और भी आकर्षक लगे।

चावल की केसरिया खीर हो सकता है बेहतर डेजर्ट

खीर को देश में बच्चो से लेकर बुजुर्ग तक सभी लोग खाना पसंद करते है। इसे विभिन त्योहारों पर परोसा जाता है और इसके बिना डेजर्ट अधूरा माना जाता है। अगर आप भी इस होली पर अपने मेहमानो को एक शानदार डेजर्ट का स्वाद देना चाहते है तो चावल की केसरिया खीर बेहतर विकल्प हो सकती है। आखिर इसका स्वाद है ही ऐसा तो चलिए जानते है कैसे आप घर पर ही इसे आसानी से तैयार कर सकते है।

  • आवश्यक सामग्री
    • भीगे हुए बासमती टुकड़ा चावल-50 ग्राम (¼ कप)
    • किशमिश- 2 टेबल स्पून
    • कटे हुये काजू- 10 से 12 टुकड़े
    • केसर के धागे- 40 से 50
    • चीनी-100 ग्राम (½ कप)
    • कटे हुए बादाम- 10 से 12 टुकड़े
    • इलाइची- 5 से 6 पीस
    • दूध- 1 लीटर (1 litre)
Kheer recipe
Kheer recipe
  • बनाने की विधि :- सबसे पहले टुकड़ा बासमती चावल को आधे घंटे तक भिगोने के लिए छोड़ दे। इसके बाद एक बर्तन में दूध उबालकर इसे अच्छे से पका ले और इसमें से कुछ दूध को एक ग्लास में निकालकर इसमें केसर का मिश्रण कर दे। अब मेवे बादाम और काजू को छोटे-छोटे टुकड़ो में काटकर तैयार के ले। साथ ही इलायची के छिलके को निकालकर इसका पाउडर तैयार कर ले। जब दूध उबलने लगे तो इसमें चावल डाल दे साथ ही एक-एक मिनट के अंतराल पर इसे हिलाते रहे ताकि चावल बर्तन की तली में चिपककर जलने ना लगे। जब 10 मिनट बाद चावल फूलने लगे तो इसमें मेवे बादाम और काजू को छोटे-छोटे टुकड़ो को डालकर इसे अगले 10 मिनट तक पुनः धीमी आंच पर पकायें। अब पुनः 10 मिनट पकाने के बाद इसमें केसरयुक्त दूध का घोल मिलायें और साथ ही पाउडर बनाई हुई इलायची के दानों को डालकर इसे 7 से 8 मिनट तक पकायें। जब आपको लगने लगे की खीर तैयार है तो इसे चम्मच में निकालकर ऊपर से गिराकर देखे। अगर चावल और दूध एक साथ गिर रहे तो तो समझ लीजिये की आपकी खीर तैयार है। अब आप इसमें चीनी मिलाकर एक से दो मिनट तक धीमी आंच में पकायें और इसे गरम-गरम परोस दे। हालांकि परोसने से पहले इसमें मेवे की फिनिशिंग दे दे जिससे की यह दिखने में भी आकर्षक लगेगी।

बिना ठंडाई के अधूरी है होली

बिना ठंडाई के होली की कल्पना करना भी मुश्किल है। होली से देश में गर्मी का सीजन शुरू हो जाता है ऐसे में यह ना सिर्फ होली के त्यौहार का मजा दुगुना कर देती है बल्कि शरीर को भी ताजगी प्रदान करती है। ऐसे में ठंडाई बनाना होली के त्यौहार में बेहतर विकल्प है। देश के उत्तरी भागों में तो ठंडाई को बहुत पसंद किया जाता है साथ ही इसे विभिन मौको पर भी मेहमानो को परोसा जाता है। तो चलिए जानते है कैसे तैयार कर सकते है आप सेहत और स्वाद से भरपूर ठंडाई

  • आवश्यक सामग्री
    • फुलक्रीम दूध- डेढ़ लीटर
    • बादाम छिलके उतारे हुये- 20-25
    • छिला हुआ पिस्ता-20-25
    • खसखस या (पॉपी सीड्स)-3 बड़े चम्मच
    • छोटी इलायची – 8-10
    • काली मिर्च के दाने-7-8
    • चीनी-1.5 कटोरी
    • पानी में भिगोए हुए काजू-20-25
    • छिलका उतारे हुए खरबूजे के बीज-3 बड़े चम्मच
    • केसर-7-8 धागे
    • दालचीनी-एक बड़ा टुकड़ा
    • गुलाब की सूखी पंखुड़ियां- करीब 20
Thandai
Thandai
  • बनाने की विधि:- एक बड़े बर्तन में दूध को उबालने के लिए रख दे साथ ही पिस्ता, मगज, खसखस, काजू और बादाम को अच्छी तरह से पीस ले। आप चाहे तो इसका बेहतर मिश्रण बनाने के लिए इसमें थोड़ा सा दूध मिलकर भी इसे पीस सकते है ताकि इसका मिश्रण अच्छे से बन जाए। इसके बाद उबलते हुये दूध में केसर और चीनी को मिलाते हुये इसे कुछ देर तक हिलाते रहे ताकि ये सामग्री दूध में अच्छी तरह से घुल जाए। अब आप दालचीनी, इलायची, काली मिर्च और गुलाब की पंखुड़ियों को बारीक़ पीस ले और इसे दूध में मिला ले। इसके बाद इस पेस्ट और पहले से तैयार किये हुये पेस्ट को दूध के साथ मिलाकर धीमी आंच पर 5 मिनट तक पकाते रहे साथ ही बीच-बीच में इसे हिलाते भी रहे ताकि यह बर्तन की तली से ना चिपके। इसके बाद गैस को ऑफ करके इसे ठंडा होने के लिए छोड़ दे। पूरा ठंडा होने के बाद आप इसमें गुलाब की पंखुड़ियों का फिनिशिंग टच देकर मेहमानो को परोस सकते है।  

Leave a Comment