Fastag: फास्टैग खत्म करने वाली है सरकार? नितिन गडकरी ने की घोषणा

Fastag: केंद्रीय सड़क परिवाह एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी जी द्वारा हाइवे से अक्सर सफर करने वाले वालों के लिए बड़ी खबर जारी करते हुए फास्टैग को खत्म करने की घोषणा की गई है। यानी अब सरकार द्वारा फास्टैग को पूरी तरह से खत्म किया जा रहा है, जिसे लेकर गडकरी जी ने टोल टैक्स वसूलने का दूसरा फार्मूला बताया है, उन्होंने बताया की नई व्यवस्था के बाद अधिक टैक्स भरने की समस्या पूरी तरह खत्म हो जाएगी, तो चलिए जानते हैं क्या है सरकार द्वारा शुरू की जाने वाली यह नई व्यवस्था।

फास्टैग खत्म करने वाली है सरकार

केंद्र सरकार द्वारा नागरिकों के लिए फास्टैग की व्यवस्था को पूरी तरह से खत्म करने का निर्णय लिया गया है। जिसके बाद टोल टैक्स वसूलने के लिए सरकार नई टेक्नोलॉजी को लाने वाली है, इससे आप जितना भी हाइवे पर चल रहे हैं आपके अकाउंट से उतना ही पैसा ऑटोमैटिक तरीके से कट जाएगी। जिसके लिए केंद्र का यह भी दावा है की जल्द ही देश के हाइवेज पर जीपीएसयुक्त सिस्टम (GPS enabled system) लागू किए जाएँगे।

नितिन गडकरी जी द्वारा की गई घोषणा

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी जी द्वारा कार्यक्रम के दौरान फास्टैग को खत्म करने की घोषणा के साथ ऐसी व्यवस्था को लागू करने की बात कही गई, जिससे ज्यादा या कम पैसे कटने की समस्या को खत्म किया जा सकेगा, जिसके लिए सरकार ने नए टॉल टैक्स की पायलट प्रोजेक्ट की टेस्टिंग शुरू कर दी है। अभी देश में एक टोल से दूसरे टोल तक का पूरा पैसा वसूला जाता है, जबकि यदि कोई आधी दूरी ही क्यों ना तय करे तो भी व्यक्ति को पूरी दूरी का पैसा देना पड़ता है, जिससे टोल महंगा पड़ता है, ऐसे में युरोपियन देशों में किलोमीटर से टोल वसूलने की कामयाब व्यवस्था को सरकार भारत में भी लागू करने की तैयारी कर रही है।

जानिए ये होगा नया सिस्टम

फास्टैग को खत्म करने के बाद नई टेक्नोलॉजी के मुताबिक़ जैसे ही हाइवे या एक्सप्रेसवे पर गाडी शुरू होगी, उस वक्त उसका टोल ऑन हो जाएगा, जिसके बाद पूरा सफर तय करने के बाद गाडी हाइवे से सामन्य सड़क या स्लिप रोड पर उतरेगी। तो गाडी से तय के गई दूरी के अनुसार नेविगेशन सिस्टम आपके अकाउंट से पैसा काट लेगा। देश में तक़रीबन 97 गाड़ियों में फास्टैग लगा है, लेकिन नए सिस्टम आने के बाद यह फास्टैग की तरह ही काम करेगा, मगर इसमें केवल उतना ही पैसा लगेगा, जितना सफर तय किया गया होगा।

ऐसी ही और भी सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट www.crpfindia.com को बुकमार्क जरूर करें ।

Leave a Comment