गोल्डन ग्लोब अवॉर्ड क्या है? गोल्डन ग्लोब अवॉर्ड्स क्यों दिए जाते हैं? | Golden Globe Awards – MM Keeravani

फ़िल्मी जगत में बहुत से पुरस्कार समारोह के बारे में आपने सुना होगा जैसे:- नेशनल फिल्म अवार्ड, फिल्म फेयर अवार्ड, आईफा अवॉर्ड्स, दादा साहब फाल्के अवार्ड आदि। भारतीय फिल्म क्षेत्र में दिया जाने वाला सर्वश्रेष्ठ पुरस्कार दादा साहब फाल्के अवार्ड को माना जाता है। दादा साहब को भारतीय सिनेमा का पितामाह के रूप में जाने जाते हैं। उसी प्रकार से अंतराष्ट्रीय स्तर पर भी फिल्म जगत को बहुत से पुरस्कार से नवाजा जाता है जैसे:- अंतराष्ट्रीय फिल्म फेस्टिवल, भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव उन्हीं में एक नाम आता है गोल्डन ग्लोब अवॉर्ड का जिसे हर साल जनवरी में दिया जाता है। आइये आगे जानते हैं गोल्डन ग्लोब अवॉर्ड क्या है? और गोल्डन ग्लोब अवॉर्ड्स क्यों दिए जाते हैं? सभी जानकारी विस्तार से।

Top 10 World’s Most Handsome Men 2023 List with Photos

गोल्डन ग्लोब अवॉर्ड क्या है? गोल्डन ग्लोब अवॉर्ड्स क्यों दिए जाते हैं? | Golden Globe Awards
गोल्डन ग्लोब अवॉर्ड क्या है? गोल्डन ग्लोब अवॉर्ड्स क्यों दिए जाते हैं? | Golden Globe Awards

गोल्डन ग्लोब अवॉर्ड क्या है?

Golden Globe Awards विश्व स्तरीय फिल्म जगत से जुड़ा सर्वोच्च पुरस्कार है। यह फिल्म जगत के पुरस्कार आस्कर अवार्ड के बाद आने वाला मनोरंजन और फिल्म जगत का सबसे बड़ा अवार्ड है। गोल्डन ग्लोब अवॉर्ड हार्वर्ड फारेन प्रेस एसोसिएशन की ओर से प्रत्येक साल जनवरी के महीने दिया जाता है। इसका मुख्य उद्देश्य फिल्म-मनोरंजन जगत में उत्कृष्ट कार्य करने वाले को सम्मान करना है। जिससे उनका मनोबल बढे और वो समाज में अपने मनोरंजन के तरीके से कुछ बदलाव लाए। इस अवार्ड सेरमनी में अभिनेता-अभिनेत्री, निर्देशक, कॉमेडी आदि फिल्म जगत और टीवी से जुड़े कलाकारों को सम्मानित किया जाता है। इसमें विजिताओं को एक ट्रॉफी दी जाती है। इसके समारोह में फिल्मों तथा अन्य क्षेत्रों की तमाम बड़ी हस्तियां भी शामिल होती हैं।

Golden Globe Awards History

प्रत्येक वर्ष हॉलीवुड फॉरेन प्रेस एसोसिएशन (HFPA) के द्वारा मनोरंजन जगत से जुड़े देश-विदेश के कलाकारों को, फिल्मों को Golden Globe Awards (गोल्डन ग्लोब पुरस्कार) से सम्मानित करता है। इसकी शुरुआत सर्वप्रथम जनवरी 1944 में लॉस एंजिल्स में की गई थी। यह पुरस्कार हर वर्ष जनवरी के महीने दिया जाता है। यह अवार्ड 90 अंतराष्ट्रीय पत्रकारों के मतों के आधार पर दिया जाता है।

Golden Globe Awards विजेता कैसे चुना जाता है?

हर वर्ष जनवरी माह में Golden Globe Awards का आयोजन किया जाता है। इसमें विजेताओं के चयन की प्रक्रिया वोटिंग के माध्यम से होती है। अमेरिकी और विदेशी पत्रकारों की 93 सदस्यीय टीम इसमें वोटिंग करती है। गोल्डन ग्लोब अवार्ड की पात्रता अवधी कैलेंडर वर्ष 1 जनवरी से 31 दिसंबर के बीच होती है। अर्थात इस अवधी के दौरान रिलीज हुई फिल्मों को ही योग्य माना जाएगा और इन्हें में से किसी एक को भिन्न-भिन्न श्रेणियों के लिए पुरस्कृत किया जाएगा। जनवरी माह के पहले सप्ताह में ही इस Golden Globe Awards का आयोजन किया जाता है। प्रथम अवार्ड 77 साल पहले जनवरी 1944 में दिया गया था।

किन भारतीय फिल्मों को मिला है गोल्डन ग्लोब अवॉर्ड ?

जब से गोल्डन ग्लोब अवॉर्ड की शुरुआत हुई है तब से अभी तक सिर्फ दो भारतीय फिल्मों को यह अवार्ड दिया गया था जिसमें पहली फिल्म थी दो आंखें बारह हाथ यह फिल्म 1959 में आई थी जिसके निर्माता, निर्देशक वी शांताराम जी थे। इस फिल्म को सैम्युअल गोल्डमाइन इंटरनेशनल अवार्ड से नवाजा गया था। उसके बाद सन 1983 में आई फिल्म गांधी को यह अवार्ड मिला जिसे रिचर्ड एटनबरो ने डायरेक्ट किया था। इस फिल्म को विदेशी भाषा की श्रेणी में बेस्ट मोशन फिल्म का अवार्ड से नवाजा गया था। अब फिर से भारत को Golden Globe Awards 2023 में पुरस्कृत किया है। जहाँ पर भारत की एक फिल्म के गाने को बेस्ट ऑरिजिनल सॉन्ग का खिताब दिया गया है।

Golden Globe Awards 2023

गोल्डन ग्लोबल अवार्ड का खिताब जीतने के लिए विश्वभर से फिल्में आपस में मुकाबला कर रही हैं। गोल्डन अवार्ड का 80वां संस्करण अमेरिका के लॉस एंजेलिस (बेवर्ली हिल्स) में आयोजित किया गया। इस बार रेड कारपेट पर इंडिया से भी लोगों को शामिल किया गया था। इस अवार्ड का धूमधाम से आगाज़ हो गया है, कई कैटेगरीज में विजेताओं की अनाउंसमेंट भी कर दी गई है। जिसमें भारत से एसएस राजामौली में फिल्म RRR के ‘नाटू-नाटू’ सांग को बेस्ट ऑरिजिनल सॉन्ग का खिताब से नवाजा गया है। यह इंडियन सिनेमा के लिए बहुत गर्व की बात है। नाटू-नाटू गाना 2022 के हिट ट्रैक में से एक है। RRR फिल्म ऑस्कर की रेस में भी शामिल है और साथ ही दो अन्य फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ और ‘कांतारा’ भी इसमें है, अब देखना है किस भारतीय फिल्म को ऑस्कर से नवाजा जाता है।

RRR के ‘नाटू-नाटू’ की गोल्डन जीत पर पीएम ने दी बधाई

Golden Globe Awards 2023 में RRR फिल्म के ‘नाटू-नाटू’ को बेस्ट ओरिजिनल सांग का खिताब मिलने पर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने भी बधाई दी है और ट्वीट करते हुए लिखा है “यह एक बहुत ही ख़ास उपलब्धि है” @mmkeeravaani, प्रेम रक्षित, काल भैरव, चंद्रबोस,@Rahulsipligunj. मैं @ssrajamouli, @ तारक 9999,@AlwaysRamCharan और @RRRMovie की पूरी टीम को बधाई देता हूं। इस प्रतिष्ठित सम्मान ने हर भारतीय को बहुत गौरवान्वित किया है।

‘नाटू-नाटू’ सॉन्ग के डायरेक्टर और म्यूजिक कंपोजर – MM Keeravani

80वें गोल्डन ग्लोब अवार्ड में साउथ की फिल्म RRR ने देश का नाम रोशन कर दिया है। एसएस राजामौली के निर्देशन में बनी ‘आरआरआर’ ने गोल्डन अवार्ड जीतकर सभी भारतीयों की गौरवान्वित कर दिया है। इसमें अहम भूमिका रही है एमएम कीरावणी की जिनकी बदौलत यह अवार्ड मिला है। इस फिल्म में ‘नाटू-नाटू’ गाने को इन्होने डायरेक्ट और कम्पोस किया है। जो एक सुपरहिट ट्रैक रहा इसी की बदौलत ‘नाटू-नाटू’ को बेस्ट ओरिजिनल सांग अवार्ड से नवाजा गया। एमएम कीरावणी ने 1980 के दशक में म्यूजिक कंपोजर के रूप में काम करना शुरू किया। यह मुख्य रूप से तेलगू सिनेमा में अपने काम के लिए जाने जाते हैं। ये विभिन भाषाओं में 150 से अधिक फिल्मों में काम कर चुके हैं। इन्हें सर्वश्रेष्ठ संगीत निर्देशक का नेशनल अवार्ड भी मिल चुका है।

Golden Globe Awards FAQ’s

पहला गोल्डन अवार्ड कब दिया गया था ?

गोल्डन अवार्ड की शुरुआत वर्ष 1943 में हुई थी जिसके बाद पहला गोल्डन अवार्ड वर्ष 1944 में दिया गया था।

गोल्डन अवार्ड किसके द्वारा दिया जाता है ?

गोल्डन अवार्ड हॉलीवुड फॉरेन प्रेस एसोसिएशन (HFPA) के द्वारा मनोरंजन जगत से जुड़े देश-विदेश के कलाकारों व फिल्मों को दिया जाता है।

गोल्डन अवार्ड में विजेताओं का चयन कौन करता है ?

गोल्डन अवार्ड में विजेताओं का चयन अमेरिकी और विदेशी पत्रकारों की 93 सदस्यीय टीम वोटिंग के माध्यम से करती है।

अभी तक किन भारतीय फिल्मों को गोल्डन ग्लोबल अवार्ड मिला है ?

अभी तक सिर्फ दो भारतीय फिल्मों दो आंखें बारह हाथ और गांधी को इस अवार्ड से नवाजा गया था लेकिन वर्ष 2023 में फिल्म RRR को भी इस अवार्ड से सम्मानित किया गया है।

Leave a Comment

Join Telegram