गिलोय जूस के उपयोग, फायदे और नुकसान | Uses, advantages and disadvantages of Giloy juice

गिलोय एक औषधीय बेल होती है। पहले सभी लोग आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों के प्रयोग से ही किसी भी रोग का इलाज किया जाता था। वे लोग स्वस्थ और तंदुरुस्त रहने के लिए भी कई प्रकार की जड़ी बूटियों का इस्तेमाल करते थे। इसमें से एक गिलोय भी है। गिलोय में कई औषधीय गुण पाए जाते हैं, इसकी पत्तियों में कैल्शियम फॉस्फोरस और प्रोटीन प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। ये आपको आपके आस पास की झाड़ियों और पेड़ों, पहाड़ों पर मिल जाती है। लेकिन अब धीरे धीरे इसके लाभ जानने के बाद लोग अपने घरों में भी इसको लगाने लगे हैं। गिलोय हमारी सेहत के लिए बहुत ही लाभदायक होता है। आप गिलोय का जूस और गिलोय का पानी भी पी सकते हैं। आज हम आपको गिलोय जूस के उपयोग, फायदे और नुकसान के बारे में बताएँगे।

पेट के लिए अदरक के फायदे : Pet Ke Liye Adrak Ke Fayde

गिलोय जूस के उपयोग, फायदे और नुकसान | Uses, advantages and disadvantages of Giloy juice
गिलोय जूस के उपयोग, फायदे और नुकसान | Uses, advantages and disadvantages of Giloy juice

गिलोय का उपयोग

  • गिलोय की पत्तियों और तने का आप जूस बना सकते हैं। जिसका की आप एक दिन में दो बार 20 से 30 एमएल सेवन कर सकते हैं।
  • गिलोय की पत्तियों और बेल का आप काढ़ा भी बना कर उपयोग कर सकते हैं। इस काढ़े को आप एक दिन में 2 बार 20 एमएल तक ही सेवन कर सकते हैं।
  • आप चाहे तो गिलोय के बीजों का भी सेवन कर सकते हैं।

एलोवेरा जेल के फायदे और उपयोग: Aloe Vera Gel Ke Fayde

गिलोय जूस के फायदे

  • रोगप्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में सहायक – गिलोय इम्युनिटी बढ़ाने में लाभदायक होता है। गिलोय के जूस में इम्यूनोमॉड्यूलेटरी औषधीय गुण पाया जाता है। जो की इम्युनिटी बढ़ाने में सहायक होता है। जिससे आप बिमारियों की चपेट ल इ दूर रहते हैं।
  • तनाव दूर करने में सहायक – आज कल के जीवन में लोगों को तनाव की समस्या काफी होती है। जिन लोगों को स्ट्रेस की समस्या होती है। उनके लिए ये लाभकारी साबित होता है। तनाव से मुक्ति पाने के लिए आप गिलोय जूस को अपने आहार में सम्मिलित कर सकते हैं।
  • अस्थमा में मददगार – जिन लोगों को अस्थमा की बीमारी है। उन लोगों के लिए भी गिलोय लाभदायक होता है। गिलोय श्वास से जुडी परेशानियों को भी कम करता है। गिलोय की बेल के जूस में आप शहद मिलाकर इसका सेवन आप कर सकते हैं।
  • आँखों के लिए लाभदायक – आँखों से जुडी समस्याओं से निजात पाने के लिए भी गिलोय लाभकारी होता है। गिलोय में पाया जाने वाला इम्यूनोमॉड्यूलेटरी गुण आँखों के लिए लाभकारी होता है। वैज्ञानिकों के शोध में बताया गया की गिलोय आँखों से जुडी समस्याओं को खत्म करने में मददगार होता है।
  • डेंगू में लाभदायक – गिलोय में कई औषधीय गुण पाए जाते हैं। गिलोय के इम्यूनोमॉड्यूलेटरी गुणों के कारण शरीर की इम्युनिटी बढ़ती है। जो की शरीर की बीमारियों से लड़ने की शक्ति बढ़ाता देता है। इससे मलेरिया,डेंगू जैसे वॉयरल इंफेक्शन शामिल हैं।
  • पाचन शक्ति को मजबूत करे – गिलोय के सेवन से हमारे पाचन तंत्र में भी सुधार होता है। गिलोय के पाचन से संबंधित दस्त और डायरिया जैसी समस्याओं को दूर करने में सहायक होता है। गिलोय पाचन शक्ति को बढ़ाने में और पाचन तंत्र को मजबूत करने में लाभकारी होता है।
  • डायबिटीज को नियंत्रित करने में सहायक – जिन लोगों को डायबिटीज की समस्या होती है वो लोग भी गिलोय जूस का सेवन कर सकते हैं। गिलोय में एंटी हाइपरग्लाइसेमिक गुण होते हैं जो की ब्लड शुगर को नियंत्रित करने में सहायक होते हैं। गिलोय शरीर में इंसुलिन की सक्रियता को बढ़ा कर शुगर को कंट्रोल करता है।
  • गठिया में लाभदायक – गठिया से परेशान लोग भी गिलोय का सेवन कर सकते हैं। विशेषज्ञों का कहना है कि गिलोय में इंफ्लेमेटरी तत्व यानि की जो सूजन को कम करता है। और इसके एंटी-अर्थराइटिक और एंटी ऑस्टियोपोरोटिक जो की जोड़ों और सूजन से होने वाले दर्द को कम करने में सहायक होते हैं। जो की गठिया को कम करने में सहायक होते हैं।

रोजाना खाली पेट खाएं लहसुन की सिर्फ 1 कली, मिलेंगे ये 6 चमत्‍कारी फायदे

गिलोय जूस के नुकसान

  • गिलोय पाचन तंत्र के लिए अच्छा होता है, लेकिन गर्म तासीर होने के कारण इससे गैस और जलन की समस्या हो सकती है।
  • गर्भवती महिलाएं गिलोय का सेवन डॉक्टर के परामर्श के बाद ही करें।
  • गिलोय ब्लड शुगर को कम करने में सहायक होता है। लेकिन जो लोग शुगर की दवाइयों का सेवन कर रहे हों। उनको ये डॉक्टर की सलाह पर ही लेना चाहिए।

गिलोय जूस के उपयोग, फायदे और नुकसान

गिलोय जूस पीने से क्या फायदा मिलता है ?

गिलोय जूस पीने से साँस सम्बन्धी बीमारियां जैसे:- अस्थमा, खांसी आदि में बेहद फायदा मिलता है। इसके जूस में नीम और आंवला मिलाने पर त्वचा सम्बंधित रोग एग्जिमा और सोराइसिसग को दूर किया जा सकता है। यह कुष्ठ रोग और पीलिया में भी बहुत फायदेमंद।

क्या गिलोय के जूस से खून बढ़ता है ?

गिलोय का जूस अनीमिया को दूर करने में बेहद लाभकारी होता है। खून की कमी को दूर करने के लिए इसे घी और शहद के साथ किया जा सकता है।

गिलोय का जूस दिन में कितने बार पिया जाना चाहिए ?

गिलोय का जूस दिन में दो दो बार पि सकते हैं, इससे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। यह शरीर से विशाखत पदार्थ को निकालने में मदद करता है साथ ही यह एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर है।

गिलोय में विटामिन पाया जाता है ?

इसमें गिलोइन नामक ग्लूकोसाइड और टीनोस्पोरिन, पामेरिन एवं टीनोस्पोरिक एसिड है। इसके अलावा इसमें फॉस्फोरस, कॉपर, कैल्शियम, आयरन और मैगनीज प्रचूर मात्रा है।

Leave a Comment

Join Telegram