महिलाओं में पेट दर्द होने के 6 प्रमुख कारण, ना करें इंग्नोर

आप सभी के घरों में महिलायें तो रहती होंगी। आपकी/हमारी माँ, बहन, पत्नी, भाभी, इनमे से कोई एक महिला तो हमारे घरों में होती ही है। लेकिन आपने कभी ध्यान दिया की अक्सर वो पेट दर्द की समस्या बताते रहते हैं। और पीरियड्स के समय तो कुछ महिलाओं को कुछ ज्यादा ही तकलीफ होती है। कभी-कभी अचानक से पेट दर्द शुरू हो जाता है। आपने कभी गौर किया है, कि महिलाओं को पेट दर्द की समस्या पुरुषों से अधिक होती है। पेट दर्द होनी की कई सारी वजह हो सकती है। कभी कभी दर्द अचानक से ही शुरू हो जाने पर खुद ही सही हो जाता है। लेकिन कभी-कभी ये ज्यादा ही होने लगता है। पेट दर्द के बहुत सारे कारण हो सकते हैं। आगे पढ़ें महिलाओं में पेट दर्द होने के 6 प्रमुख कारण की पूरी जानकारी।

रोग प्रतिरोधक क्षमता क्या है इम्युनिटी बढ़ाने के घरेलू उपाय

महिलाओं में पेट दर्द होने के 6 प्रमुख कारण, ना करें इंग्नोर
महिलाओं में पेट दर्द होने के 6 प्रमुख कारण, ना करें इंग्नोर

जैसे कुछ चीजों के सेवन से गैस बन जाना, खाना ज्यादा खा लेने पर, दस्त के कारण, पेट में संक्रमण के कारण होने वाली सूजन से दर्द हो सकता है, लेकिन कई बार इन सभी वजहों से होने वाला दर्द कभी खुद ठीक हो जाता है। यदि ये दर्द ठीक न हो तो आपको डॉक्टर के पास जाकर परामर्श और जाँच करवानी जरूरी होती है।

महिलाओं में पेट दर्द होने के 6 प्रमुख कारण

मासिक धर्म में होने वाली ऐंठन के कारण होने वाला दर्द –

  • पेट दर्द की जब बात आती है तो पीरियड्स में सभी महिलाओं को सामान्यतः हल्का दर्द तो होता ही है। लेकिन कुछ महिलाओं को पीरियड्स के समय सबसे अधिक दर्द महसूस होता है। मासिक धर्म के समय पेट में होने वाली ऐंठन पेट दर्द के कारणों में से एक है। मासिक धर्म के दौरान हमारा गर्भाशय इसमें पाए जाने वाले अस्तर/मासिक धर्म में होने वाले रक्तस्राव में निकलने वाले ब्लड को बहार निकालने के लिए हमारा गर्भाशय सिकुड़ जाता है। दर्द और सूजन वाले हार्मोनिक पदार्थ हमारे गर्भाशय की मांसपेशियों पर सिकुड़न के लिए दबाव डालते हैं। प्रोस्टाग्लैंडीन की अधिक मात्रा होने के कारण कुछ महिलाओं को मासिक धर्म के दौरान ज्यादा दर्द और ऐंठन की दिक़्क़त हो सकती है। ऐसे में गर्म पानी की बोतल से सिकाई करें।

अपच या खराब हाजमे के कारण पेट दर्द होना

  • कभी कभी हमको बेचैनी सी लगती है। भोजन करने के बाद उल्टी होना, सीने में जलन होना, बेचैनी होना। थोड़ा सा खाना खाने पर ही पेट भरा भरा लगना। ये सभी अपच का लक्षण हो सकता है। हमको अपच ज्यादा मात्रा में किसी चीज को खाने से, ज्यादा चिंता या घबराहट के कारण, ज्यादा मात्रा में चॉकलेट्स, एल्कोहल का सेवन करने से या फिर आप तैलीय पदार्थों या वसा वाली चीजों का सेवन करते हैं। इन सभी के कारणों से हमारे पेट में दर्द होने की संभावना होती है। ऐसे स्थिति में आप एंटीबायोटिक या फिर किसी दर्द निवारक दवा का सेवन कर दर्द से राहत प्राप्त कर सकते हैं।

लकवे का घरेलू इलाज : Paralysis Ka Gharelu ilaaj

अंडाशय में गाँठ बनने से होता है पेट दर्द

  • लगातार और ज्यादा समय तक होने वाले पेट दर्द का कारण अंडाशय में गाँठ पड़ना हो सकता है। इसके लक्षण तब तक पता चलते हैं ये ज्यादा बड़े नहीं हो जाते हैं। ओवेरियन सिस्ट हमारे दोनों या फिर किसी एक अंडाशय की सतह/तल पर होने वाला तरल पदार्थ से भरी हुई गांठ होती है। यदि ये ओवरियन सिस्ट बड़ा हो तो इससे पेट में भारीपन लगता है। इससे ब्लीडिंग भी हो सकती है।

पेल्विक एरिया में सूजन की बीमारी

  • पेल्विक इंफ्लेमेटरी डिजीज हमारे जननांग अंगो या जननांग पथ में होने वाली सूजन या संक्रमण होती है। पेल्विक एरिया में सूजन की समस्या अक्सर तब होती है। जब हमारे गर्भाशय/योनि ग्रीवा में यौन संचारित बैक्टीरिया हमारे और जननांग अंगो में फ़ैल जाते हैं। मल त्याग करने में या पेशाब करते हुए पेट मे ज्यादा दर्द होना। यदि आपको पेल्विक एरिया में ज्यादा समय तक दर्द होता है, तो डॉक्टर से जाँच अवश्य करवायें। ये हमारे गर्भाशय, फैलोपियन ट्यूब, और ओवरी को प्रभावित करता है।

यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन के कारण होने वाला दर्द UTI

  • UTI की समस्या पुरुषों से ज्यादा महिलाओं में होती है। यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन को फ़ैलाने वाला बैक्टीरिया हमारे पेट के नीचे वाले भाग को भी नुकसान पहुँचाता है। जिससे पेट में बहुत ज्यादा दर्द और दबाव महसूस होता है। यूटीआई में पेट में दर्द, पेशाब का झागदार होना, या फिर पेशाब करते हुए जलन होने जैसी समस्यायें होती हैं।

कफ और खांसी का घरेलू इलाज

महिलाओं में पेट दर्द होने के 6 प्रमुख कारण से सम्बंधित प्रश्न

पेट दर्द होने के क्या कारण हो सकते हैं ?

पेट में दर्द होने के बहुत से कारण हो सकते हैं जैसे :- फूड पॉइजनिंग,बी खाना हजम न होना, पित्त में पथरी, अल्सर या फोड़ा, अपेंडिसाइटिस, कब्ज की शिकयत आदि। इनमें से किसी भी समस्या होने से पेट का दर्द होता है।

पेट में दर्द होने पर खाने में क्या नहीं खाना चाहिए ?

पेट में दर्द होने पर हमें दूध और दूध से बने प्रोडक्ट नहीं खाने चाहिए। क्योंकि इन्हें पचना कठिन होता है। साथ ही चाय-कॉफ़ी के सेवन करने में भी परहेज करना चाहिए।

पेट दर्द ठीक करने के लिए क्या खाना चाहिए ?

अगर आपके पेट में दर्द है तो आपके इन सब चीज़ों को खाने में शामिल करना चाहिए। हल्दी का सेवन करें, खाने में दही खाएं, पुदीने का सेवन कर सकते हैं, अदरक को खा सकते हैं ये अपच की समस्या को खत्म करता है, जीरे का पानी पी सकते हैं।

पेट साफ़ करने के लिए क्या खाएं ?

सबसे पहले से पानी ज्यादा से ज्यादा पिएं, फाइबर से भरपूर फ़ूड को उपयोग में लाएं, शहद और नीम्बू पानी पिएं, हर्बल टी, पुदीना, अदरक आदि के सेवन करें।

Leave a Comment

Join Telegram