कर्मचारी पेंशन योजना में जिंदगी भर हर महीने मिलेगी पेंशन, जल्दी से करें आवेदन

अगर आप भी केंद्र सरकार के कर्मचारी है और रिटायरमेंट के बाद हर महीने पेंशन पाना चाहते है तो कर्मचारी पेंशन योजना  (EPS) आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकती है. इस योजना के तहत केंद्र सरकार द्वारा अपने कर्मचारियों को सेवानिवृति के बाद पेंशन देने के लिए कुछ अंश उसकी सैलरी से इन्वेस्ट किया जाता है और कुछ सरकार की तरफ से. जो सरकार कर्मचारी रिटायरमेंट के बाद भी इनकम का रेगुलर सोर्स चाहते है उनके लिए यह सबसे अच्छा ऑप्शन है. चलिए समझते है इसका पूरा गणित और क्या है इसका रजिस्ट्रेशन प्रोसेस

 EPS, यानी एक कदम बेहतर फ्यूचर की ओर

कर्मचारी पेंशन योजना की शुरुआत केंद्र सरकार द्वारा 16 नवंबर 1995 को की गयी थी. इस योजना के तहत केंद्र सरकार के कर्मचारियों को शामिल किया जाता है. कारखानों और अन्य इंस्टीटूशन में काम करने वाले कर्मचारियों को भी इस योजना में शामिल किया गया है. हालांकि आपको बता दे की सरकार द्वारा इस योजना में सिर्फ उन्ही कर्मचारियों को शामिल किया जायेगा जिनकी सेवा अवधि कम से कम 10 वर्ष रही हो.

Karamchaari Pension Yojana (EPS) के तहत कर्मचारी अपने वेतन का 12फीसदी हिस्सा EPS में अंशदान देता है. कर्मचारी के वेतन के 8.33% अंशदान नियोक्ता द्वारा कर्मचारी पेंशन कोष में ट्रांसफर कर दिया जाता है. साथ ही केंद्र सरकार द्वारा भी कर्मचारी के वेतन के 1.16% राशि की कर्मचारी पेंशन कोष में ट्रांसफर किया जाता है. इस प्रकार इस योजना में कर्मचारी और सरकार दोनों द्वारा योगदान दिया जाता है. इस योजना में केंद्र सरकार द्वारा न्यूनतम 1,000 रुपए कर्मचारी के पेंशन कोष में जमा करवाए जाते है. हालांकि लम्बे समय के इसे बढ़ाने की मांग की जा रही है.

पूरी करनी होंगी ये शर्तें

  • इसमें रिटायरमेंट की उम्र 58 साल रखी गयी है.
  • कर्मचारी द्वारा कम से कम 10 साल की सेवाकाल होना जरुरी है.
  • उसे EPFO का सदस्य होना जरुरी है.

ऐसे करें आवेदन

इसके लिए आपको सबसे पहले EPFO की आधिकारिक वेबसाइट epfindia.gov.in पर जाना होगा. होमपेज पर हमारी सेवाओं में कर्मचारियों के लिए ऑप्शन पर क्लिक करें. इसके बाद यूएएन/ऑनलाइन सेवा (ओसीएस/ओटीसीपी) पर क्लिक करे. इसके बाद ये स्टेप्स फॉलो करें.

  • अब आपको UAN, पासवर्ड और कैप्चा भरकर लॉगिन करना होगा.
  • इसके बाद मैनेज टैब में e-नामांकन करे.
  • इसी तरह से अन्य Formalities भी पूरी कर दे.
  • लास्ट में आपको मोबाइल नंबर पर OTP भेजा जायेगा.
  • इन स्टेप्स से आप इसमें आवेदन कर सकते है.

कर्मचारी पेंशन योजना, यानी फायदे का सौदा

इस योजना के तहत नामांकन करने पर ये सुविधाएँ भी सरकार की तरफ से दी जाती है:-

  • यदि कर्मचारी सेवा करने में असमर्थ है और उसने पेंशन पाने की अवधि पूरी नहीं की है तो भी उसे पेंशन का लाभ दिया जायेगा.
  • यदि उसकी सर्विस के दौरान मृत्यु हो जाती है तो उसके परिवार को पेंशन का लाभ दिया जायेगा.
  • ईपीएस 95 के तहत कर्मचारी का परिवार ना होने की दशा में उसके द्वारा नामित व्यक्ति को पेंशन दी जाती है.
  • सदस्य की मृत्यु होने पर उसके माता-पिता को पेंशन दी जाती है अगर उसके द्वारा किसी और को नामित ना किया गया हो.यह राशि विधवा पेंशन के बराबर होती है.

Leave a Comment