भूकंप क्या है | भूकंप क्यों आते हैं | Earthquake meaning in hindi

भूकंप क्या है – तो दोस्तों जैसा की आप सभी जानते है की जब भी इंसान प्रकृति के साथ छेड़ छाड़ करता है तो उसको हमेशा ही उसका परिणाम देखने को मिल जाता है। यह चीज इंसान को बहुत बार देखने को मिली है जब भी इंसान प्रकृति को हानि पहुंचाते है तो प्रकृति हमको उसका जवाब अवश्य देती है जिसके कारण इस दुनिया में बहुत तबाही भी देखने को मिलती है। प्रक्रति के साथ छेड़ छाड़ करना बिलकुल भी सही नहीं है। क्योंकि प्रक्रति आपदा के जरिये इंसानो से बदला लेती है जो की बहुत ही भयानक होती है। इस आपदा में बहुत सी चीजें शामिल होती है जैसे की – भूकंप, सुनामी, तूफ़ान, ज्वालामुखी, बाढ़, लैंडस्लाइड, भूस्खलन आदि। तो दोस्तों आप सभी को बता दे की इन सभी को देवीय आपदा भी कहा जाता है। तो आज हम इनमे से एक देवीय आपदा के ऊपर चर्चा करने वाले है जिसको भूकंप कहते है।

भूकंप क्या है | भूकंप क्यों आते हैं | Earthquake meaning in hindi
Earthquake meaning in hindi

तो दोस्तों वी तो आप सभी भूकंप के बारे में जानते ही होंगे अगर नहीं जानते हो तो आपको चिंता करने की बिलकुल भी आवश्यकता नहीं है क्योंकि आज हम आप सभी को इस लेख के माध्यम से भूकंप के बारे में बहुत सी बाते बताने वाले है जी की – भूकंप क्या होता है ?, भूकंप क्यों आते है इसके आने का क्या कारन होता है आदि जैसी बहुत सी जानकारी हम आज आप सभी को इस लेख के जरिये प्रदान करने वाले है। तो दोस्तों अगर आप भी इस प्रकार की जानकारी जानने के लिए इच्छुक है तो उसके लिए आप सभी को हमारे इस लेख को अंत तक पढ़ना होगा तब ही आप इससे सम्बंधित जानकारी प्राप्त कर सकोगे। तो दोस्तों इसलिए कृपया करके हमारे इस लेख को अंत तक पढ़े और जानकारी प्राप्त करें

इसपर भी गौर करें :- क्या होगा अगर पृथ्वी घूमना बंद कर दे?

भूकंप क्या है | What is an earthquake?

तो दोस्तों आप सभी को यह बता दे की भूकंप किसे कहते है। भूकन उसको कहते जब धरती अपने आप से हिलने लगे या फिर कांपने लगे तो उसको भूकंप कहा जाता है। तो आप सभी को यह बता दे की भूकंप आने के बहुत से कारण हो सकते है वो यह है की हमारी इस धरती के अंदर 7 प्लेट्स होती है। आप सभी को यह भी बता दे की इन प्लेट्स को टेकटोनिक प्लेट्स के नाम से भी जाना जाता है। इन टेकटोनिक प्लेट्स को हिंदी में विवर्तनिकी के नाम से भी जाना जाता है। जब यह टेकटोनिक प्लेट्स आपस में टकराती है तो उन टेकटोनिक प्लेट के कोने मुड़ने लगते है

जिसके कारण धरती में दबाव पैदा होता है और फिर वह दबाव बनने की वजह से वह टेकटोनिक प्लेट्स टूटने लगती है जिसके कारण धरती में ऊर्जा पैदा होती हो और वह ऊर्जा जब धरती से बाहर निकलती है तो वह भूकंप का रूप ले लेती है। आप सभी को यह भी बता दे की भूंकप को और भी कई नाम से जाना जाता है जैसे की – भूचाल, अर्थक्वेक, आदि। भूकंप भी इ प्रकार की आपदा ही है क्योंकि कई बार भूकप इतने भयानक आते है की इसकी वजह से बहुत तबाही भी मच जाती है कई बार तो इमारते भी गिरने लगती है और धरती भी फटने लगती है जिसके कारण बहुत ही अधिक नुक्सान होता है।

आपको यह भी बता दे की भूकंप को मापने के लिए एक यंत्र भी होता है जिसक सीस्मोग्राफ के नाम से भी जाना जाता है। भूकंप को मापने के लिए रिएक्टर का प्रयोग किया जाता ही और आपको यह भी बता दे की भूकंप को 1 से लेकर 9 रिएक्टर के बीच में मापा जाता है। तो दोस्तों अब हम आप सभी को यहाँ पर यह बताने वाले है की कितने रिएक्टर के भूकंप पर केसा महसूस होता है तो यह जानने के लिए दी गयी जानकारी को ध्यान से पढ़िए।

रिएक्टर केसा महसूस होता है
0 से 1.9इतने में किसी को भी भूकंप का पता नहीं चलता है इसको केवल सिस्मोग्राफ की मदद से मापा जाता है
2 से 2.9अगर भूकंप इतने रिएक्टर का हो तो उसमे आपको हल्का हल्का कंपन महसूस होगा
3 से 3.9इतने में आपको थोड़ा अधिक कंपन महसूस होगा जैसे की आपको चक्कर आ रहे हो
4 से 4.9इतने रिएक्टर के भूकनाप में आपके घर की खिड़कियां भी टूट सकती है और अगर आपने कही ऊंचाई पर कोई कांच की चीज रही हुई हो तो वह भी निचे गिर सकती है
5 से 5.9यह भूकंप आम भूकंप से थोड़ा अधिक खतरनाक हो सकता है इसमें आपके घर का फर्नीचर जैसी चीजें भी हिलने लगती है
6 से 6.9इस रेक्टर का भूकंप भी काफी खतरनाक माना जाता है क्योंकि इसमें कई बड़ी बड़ी बिल्डिंग में दरार आणि शुरू हो जाती है जिसमे उनके गिरने का खतरा बना रहता है
7 से 7.9 यह भी काफी भयानक भूकंप होता है क्योंकि इस रिएक्टर के भूकंप में इमारते गिरने लगती है और उसके साथ साथ जमीन में डाली हुई पाइपलाइन भी फट सकती है
8 से 8.9 यह बहुत ही अधिक खतरनाक भूकंप होता है क्योंकि इसमें कई बड़े बड़े पल भी गिर सकते है जिससे की जान का खतरा बना रहता है
9 और उससे ज्यादा इस रेक्टर का भूकंप सबसे अधिक खतरनाकक व भयानक होता है क्योंकि इसमें धरती फटने लगती है जिसके कारण सुनामी आने का खतरा भी बना रहता है यह बहुत ही अधिक खतरनाक होता है इसमें कई लोगो की जान भी जा सकती है
भूकंप आने पर केसा महसूस होता है

भूकंप के प्रकार | Type of earthquake

तो दोस्तों अब हम आप सभी को यहाँ पर भूकंप के कुछ प्रकार के बारे में बताने वाले है तो यह जानकारी पाने के लिए इस लेख को अंत तक पढ़े और यह जानकारी प्राप्त करें

तो दोस्तों आप सभी को यह बता दे की भूकंप भी होते है जो कुछ इस प्रकार है :-

  1. विवर्तनिक भूकंप (Tectonic earthquake)
  2. ज्वालामुखीय भूकंप (Volcanic earthquake)
  3. संक्षिप्त भूकंप (Brief earthquake)
  4. विस्फोटक भूकंप (Explosive earthquake)
  1. विवर्तनिक भूकंप (Tectonic earthquake)- तो दोस्तों आप सभी को यह बता दे की इस प्रकार का बी भूकंप बहुत ही आम बात होती है क्योंकि यह भूकंप धरती में टेकटोनिक प्लेट की हलचल के कारण से भी हो सकता है। आप सभी को यह भी बता दे की इस प्रकार के भूकंप को Tectonic earthquake के नाम से भी जाना जाता है।
  2. ज्वालामुखीय भूकंप (Volcanic earthquake)- आप सभी को यह बता दे की इस प्रकार के भूकंप को Volcanic earthquake के नाम से भी जाना जाता है। इस प्रकार का भूकंप आना कोई भी आम घटना नहीं होती है। क्योंकि इस प्रकार के भूकंप या तो ज्वालामुखी के फटने के पूर्व आते है या फिर ज्वालामुखी फटने के पश्चात ही आते है।
  3. संक्षिप्त भूकंप (Brief earthquake)- आप सभी को यह भी बता दे की इस भूकंप के प्रकार को Brief earthquake के नाम से भी जाना जाता है। आप सभी को बता दे की इस प्रकार का भूकंप भी कोई आम बात है क्योंकि यह भूकंप जमीन के अंदर चट्टानों में बन रहे प्रेशर यानि के दबाव के कारण ही आता है।
  4. विस्फोटक भूकंप (Explosive earthquake)- तो दोस्तों आप सभी को यह बता दे की इस प्रकार का भूकंप का नाम Explosive earthquake भी होता है। आप सभी को यह भी बता दे की इसको इंसानी भूकंप यानि के आर्टिफीसियल भूकंप भी कहा जा सकता है। क्योंकि इस प्रकार के भूकंप इंसानों के कारण ही आते है जब इंसान किसी परमाणु बम का प्रशिक्षण कर रहे होते है इसके कारण भी इस प्रकार का भूकंप आने की सम्भावना होती है।

Ways to survive an Earthquake

तो दोस्तों अब हम आप सभी को यहाँ पर बताने वाले है की अगर कभी भी भूकंप आ जाए तो उस स्थिति में आप सभी को क्या करना चाहिए। तो दोस्तों यह सब जानकारी प्राप्त करने के लिए दी गई जानकारी को ध्यान से पढ़े।

  1. तो दोस्तों अगर कभी भी यानि के जब भी भूकंप आये तो आपको अपने घर में किसी टेबल के निचे जाकर छुप जाना चाहिए।
  2. जब भी कभी भूकंप महसूस हो तो आप सभी कोअपने घर के सभी बिजली से चलने वाले उपकरणों को ऑफ कर देना चाहिए और उनका प्लग भी निकल देना चाहिए।
  3. अगर आप किसी बिल्डिंग में रहते है तो जब भूकंप ए तो आपको यह प्रयास करना चाहिए की आप किसी खुल्ले मैदान में चले जाए।
  4. जब भूकंप आये तो आप अपने घर के किसी कोने में भी खड़े हो सकते है।

भूकंप से सम्बंधित कुछ प्रश्न व उनके उत्तर

भूकंप क्या है

जब भी कभी धरती अपने आप से ही कांपने या फिर हिलने लगती है उसी को भूकंप कहा जाता है। भूकंप एक प्रकार की आपदा होती है जो की प्रकृति के द्वारा होती है।

भूकंप नापने वाले यंत्र को क्या कहता है ?

जिस यंत्र के द्वारा भूकंप मापा जाता है उस यंत्र को सिस्मोग्राफ के नाम से जाना जाता है।

Earthquake के आने का क्या कारन होता है ?

Earthquake का कारण यह होता है की हमारी इस धरती के अंदर टेकटोनिक प्लेट स होती है उनके आपस में टकराने के कारण ही Earthquake आ जाता है।

विश्व में सबसे अधिक Earthquake कहा पर आते है ?

विश्व में सबसे अधिक Earthquake जापान में आते है। यहाँ पर लगभग रोजाना भूकंप के झटके महसूस किये जाते है।

Leave a Comment