दुआरे राशन योजना: घर बैठे मिलेगा राशन, जानें क्या है पूरी प्रक्रिया

दुआरे राशन योजना: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बैनर्जी जी के द्वारा राज्य के नागरिकों के लिए घर बैठे राशन की सुविधा शुरू की है। इसके लिए यहाँ की राज्य सरकार ने कुछ समय पहले ही दुआरे राशन योजना की शुरुआत की है। इस योजना में राज्य के सभी राशन कार्ड धारकों को लाभ मिलेगा। राशन से सम्बंधित सभी कार्य घर बैठे ही संपन्न हो सकते हैं। इसमें कॉमन सर्विस सेंटर के द्वारा सेवाएं उपलब्ध कराई जाएँगी।

दुआरे राशन योजना क्या है

दुआरे राशन योजना की शुरुआत पश्चिम बंगाल राज्य के राशन कार्ड धारकों को सुविधा प्रदान करने के लिए की गयी है। इस योजना के तहत राज्य के सभी राशन कार्ड धारकों को राशन की सुविधा घर तक प्रदान की जाएगी। इस योजना में यह सुविधा घर घर तक कॉमन सर्विस सेंटर के द्वारा पहुंचाई जाएगी। दुआरे राशन योजना का लाभ राज्य के लगभग 10 करोड़ लोगों को प्रदान किया जायेगा। इस योजना में प्रत्येक डीलर के साथ दो सहायक भी जोड़े जायेंगे। डीलरों के साथ काम करने वाले दो सहायकों को प्रत्येक माह वेतनमान दस हजार रूपये का दिया जायेगा। प्रत्येक राशन डिलीवर वाहनों को नागरिकों के घर से सुविधाजनक स्थान पर खड़ा किया जायेगा। जिससे की नागरिकों को राशन के लिए ज्यादा दूर न जाना पड़े।

Highlights Of Duare Ration Yojana

योजना दुआरे राशन योजना
राज्य पश्चिम बंगाल
शुरुआत पश्चिम बंगाल सरकार द्वारा
साल 2022
लाभार्थी राज्य के सभी राशन कार्ड धारक

दुआरे राशन योजना में होने वाले लाभ

दुआरे राशन योजना में पश्चिम बंगाल के नागरिकों को कई प्रकार के लाभ मिलेंगे। आईये जानते हैं कुछ लाभ के बारे में।

राशन कार्ड में आवेदन के लिए- राशन कार्ड में आवेदन के लिए “खाद्य साथी अमर मोबाइल एप्प” जारी किया गया है जिससे नागरिक आसानी से अपना राशन कार्ड बना पाएं और इससे जुडी समस्याओं का समाधान निकाल पाएं।

10 करोड़ लोगों को मिलेगी मदद -दुआरे राशन योजना के तहत लगभग 10 करोड़ लोगों को मदद मिलेगी। जो लोग अपने लिए राशन एकत्रित करने में समर्थ नहीं है, अब सरकार द्वारा उन सभी परिवारों को राशन की सुविधा प्रदान कराएगी।

घर घर मिलेगी राशन – दुआरे राशन योजना के अंतर्गत सभी राशन कार्ड धारकों को अब राशन उनके घर पर ही मिलेगी। अब सरकार उन्हें राशन उनके घर तक पहुँचा कर देगी। जिससे किसी भी नागरिक को राशन के लिए कहीं दूर न जाना पड़े। एक नियमित दिन सभी नागरिकों को राशन उनके घर के पास में ही प्राप्त होगा।

सरकारी डीलर – राज्य में नागरिकों के घर घर तक राशन पहुँचाने वाले डीलरों को सरकार प्रति माह वेतन प्रदान कराएगी। राज्य में लगभग 21000 डीलर हैं। इसके साथ साथ प्रत्येक डीलर के साथ दो सहायकों को नियुक्त किया जायेगा। जिनका वेतन दस हजार रूपये प्रति माह होगा। जिसमे से 5000 राज्य सरकार के द्वारा प्रदान की जाएगी और बाकी डीलर की तरफ से दी जाएगी।

डीलरों को वाहन सुविधा – सरकार ने डीलरों को वाहन सुविधा देने का भी निर्णय लिया है। राज्य में 21000 डीलर हैं और प्रत्येक डीलर को डिलीवर वाहन को खरीदने के लिए एक लाख रूपये तक की सब्सिडी प्रदान कराएगी।

Leave a Comment