डीजीपी का मतलब क्या होता है ? डीजीपी (DGP) का फुल फॉर्म ? डीजीपी कैसे बने

डीजीपी का मतलब : आज के समय में भी, पहले की ही तरह सरकारी नौकरी के प्रति लोगों का आकर्षण वैसा ही है। समय के साथ साथ बहुत कुछ बदला, रोजगार और अन्य नौकरियों में भी बढ़ोतरी हुई लेकिन सरकारी नौकरी में जाने का सपना आज भी अधिकतर युवा रखते हैं। बात करें सरकारी नौकरी में सबसे सम्मानित पदों की , तो आज के समय में भी देश के सबसे कठिन परीक्षा के रूप में माने जाने वाले यूपीएससी की परीक्षा के माध्यम से ही प्राप्त होती है। इन सम्मानित और उच्च पदों पर चयनित होने के लिए उम्मीदवारों को यूनियन पब्लिक सर्विस कमिशन द्वारा कराई जाने वाली परीक्षा को पास करना होता है। इन्ही पदों में से एक हैं – डीजीपी का पद

डीजीपी का मतलब क्या होता है ?

आज इस लेख में हम आप को डीजीपी के पद के बारे में जानकारी देंगे। इस लेख के जरिये आप जानेंगे कि डीजीपी का मतलब क्या होता है ? डीजीपी (DGP) का फुल फॉर्म क्या होता है ? डीजीपी कैसे बन सकते हैं ? आदि से सबंधित सभी महत्वपूर्ण बातों की जानकारी आप को इस लेख में मिल जाएगी। जानने के लिए इस लेख को पूरा पढ़ें।

डीजीपी का मतलब क्या होता है ?

डीजीपी का हिंदी में मतलब होता है – पुलिस महानिदेशक। ये पुलिस विभाग का एक बड़ा पद है। इस पद पर बैठने वाला व्यक्ति पुलिस विभाग का सबसे उच्च पदासीन अधिकारी होता है। इस सम्मानजनक पद पर बैठने वाले व्यक्ति को काफी अच्छा वेतन मिलता है। इस पद पर वही उम्मीदवार बैठ सकता है जिसने यूपीएससी की परीक्षा को उत्तीर्ण किया हो। दूसरे शब्दों में कह सकते हैं की एक आईपीएस अधिकारी ही इस पद पर बैठने के योग्य होता है।

जानकारी दे दें की ये भारतीय पुलिस सेवा का सबसे उच्च पद है। डीजीपी का कार्य होता है की वो अपने क्षेत्र में कानून व्यवस्था को सुचारु रूप से चलाये। सभी डीजीपी अधिकारियों को इसके लिए काफी अधिकार व शक्तियां प्राप्त होती हैं। जिनका उपयोग करके उन्हें संबंधित क्षेत्र में शान्ति व्यवस्था बनाये रखनी होती है। इनकी शक्तियों की बात करें तो जो राज्य के कैबिनेट मिनिस्टर्स के पास होती हैं उसी दर्जे की शक्तियां डीजीपी को भी प्रदान की गयी है। राज्य में 1 से लेकर अधिकतम 4 डीजीपी हो सकते हैं।

यह भी पढ़ें :UPSC Full Form in Hindi: यूपीएससी का मतलब क्या होता है?

Highlights Of DGP Post

आप नीचे दी गए सारणी के माध्यम से डीजीपी के पद के संबंध में कुछ महत्वपूर्ण जानकारी हासिल कर सकते हैं। यहाँ हम संक्षेप में इस पद से जुडी आवश्यक जानकारी आप को प्रदान कर रहे हैं।

आर्टिकल का नाम डीजीपी का मतलब क्या होता है ? डीजीपी कैसे बने?
डीजीपी का फुल फॉर्म ‘Director General Of Police’ ( डायरेक्टर  जनरल ऑफ़ पुलिस )
डीजीपी पद का संबंधित विभाग पुलिस विभाग
DGP की योग्यताUPSC द्वारा आयोजित कराई जाने वाली परीक्षा को उत्तीर्ण करना होगा। आईपीएस अधिकारी ही इस पद पर बैठ सकता है।
आयु सीमा जनरल कैटेगरी के उम्मीदवारों हेतु लिए – 21 से 30 के बीच
ओबीसी उम्मीदवारों हेतु – 3 साल की छूट
एससी और एसटी उम्मीदवारों को इसमें – 5 वर्ष की छूट प्रदान की जाएगी।
डीजीपी रैंक 3 स्टार
डीजीपी की सैलरी 90 हजार से लेकर 1. 50 लाख रूपए
डीजीपी के कार्य अपने क्षेत्र की कानून व्यवस्था देखना और शांति व्यवस्था बनाये रखना।

डीजीपी (DGP) का फुल फॉर्म

डीजीपी (DGP) का फुल फॉर्म ‘Director General Of Police‘ (डायरेक्टर  जनरल ऑफ़ पुलिस) होता है। इस पद को हिंदी में पुलिस महानिदेशक भी कहते हैं।

डीजीपी कैसे बने?

यदि आप भी डीजीपी बनने का सपना देख रहे हैं तो आप को आईपीएस अधिकारी बनने के लिए पहले यूपीएससी की परीक्षा देनी होगी। यूपीएसी की परीक्षा हर साल आयोजित कराई जाती है। जिसमें लाखों अभ्यर्थी इस परीक्षा में बैठते हैं। इस परीक्षा में उत्तीर्ण होने वाले उम्मीदवारों को ही उनके प्रदर्शन के आधार पर आईएएस और आईपीएस के पदों पर नियुक्त किया जाता है। हालाँकि इसके बाद भी आप को सीधे डीजीपी नहीं बनाया जाएगा। आप को पहले अन्य कई पदों पर अपनी सेवाएं देनी होंगी।

ऐसे बनते हैं डीजीपी

जैसे की आपको जानकारी हो गयी है की डीजीपी के पदों पर बैठने के लिए सबसे पहले आईपीएस के पद पर होना जरुरी है। इसके लिए UPSC की परीक्षा को उत्तीर्ण करने वालों को सबसे पहले उप पुलिस अधीक्षक यानी DSP नियुक्त किया जाता है। अगला पद होता है –अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (ASP) का। इसके बाद फिर से प्रमोट होकर पुलिस अधीक्षक (SP) पद पर आसीन होते हैं। और फिर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (SSP) के रूप में अपनी सेवा देनी होती है। इसके बाद पुलिस महानिरीक्षक (DIGP) के पद की जिम्मेदारी निभानी होती है। फिर पुलिस महानिरीक्षक (IGP), अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (ADGP) के पदों की जिम्मेदारी निभाने के बाद अंत में आप को पुलिस महानिदेशक यानी Director General Of Police (DGP) के पद पर नियुक्त किया जाता है। ये पुलिस विभाग का सबसे उच्च पद होता है। इस प्रकार आप को डीजीपी बनने के लिए बहुत मेहनत और लगन के साथ काम करना होगा।

यह भी पढ़ें : डीएसपी, एसएसपी का फुल फॉर्म क्या होता है?

डीजीपी पद से संबंधित प्रश्न उत्तर

DGP को हिंदी में क्या कहते हैं ?

डीजीपी को हिंदी में पुलिस महनिदेशक कहते हैं

डीजीपी / पुलिस महानिदेशक का क्या मतलब है?

डीजीपी, पुलिस विभाग का सबसे उच्च पदासीन अधिकारी होता है। ये सबसे बड़ा पद है।

DGP कैसे बने ?

डीजीपी बनने के लिए आप को सबसे पहले एक आईपीएस अधिकारी बनना होगा, जिसके बाद ही आप को कुछ प्रमोशन के बाद डीजीपी का पद मिलेगा। आईपीएस अधिकारी बनने के लिए आप को सबसे पहले यूपीएससी की परीक्षा को पास करना होगा। इसके बाद ही आप की डीजीपी बनने की प्रक्रिया शुरू होगी।

डीजीपी बनने के लिए क्या करना पड़ता है?

डीजीपी बनने के लिए सबसे पहले UPSC की परीक्षा को उत्तीर्ण करने के बाद आईपीएस अधिकारी बनना होगा। इसके लिए हर साल आयोजित की जाने वाली UPSC की परीक्षा के फॉर्म भरें और परीक्षा के तीनों चरणों को पर करें। जिसके बाद यदि आप का चुनाव आईपीएस अधिकारी के लिए हो जाता है तो आप डीजीपी बन सकते हैं।

DGP बनने के लिए कौन सी योग्यता होनी चाहिए ?

डीजीपी बनने के लिए यूपीएससी की परीक्षा उत्तीर्ण होनी चाहिए। इससे पहले शैक्षिक योग्यता कम से कम स्नातक होनी आवश्यक है।

आज इस लेख के माध्यम से हमने आप को डीजीपी का मतलब क्या होता है? से संबंधी महत्वपूर्ण जानकारी देने का प्रयास किया है। उम्मीद है आप को ये जानकारी उपयोगी लगी होगी। ये आप ऐसे ही अन्य लेख को पढ़ना चाहते हैं तो हमारी वेबसाइट www.crpfindia.com से जुड़ सकते हैं।

Leave a Comment