भोजन के बाद योगासन- Bhojan ke baad Yogasana

आज के समय में जब लोगों के पास ठीक से भोजन करने का भी समय नहीं होता तो ऐसे में अपच और एसिडिटी की समस्या होना बहुत ही आम बात हो चुकी है। हर दूसरा व्यक्ति इस बात को लेकर शिकायत करता है। आज कल की भाग दौड़ की ज़िन्दगी में हर किसी के पास इतना समय नहीं होता की वो अपने स्वास्थ्य की बेहतरी के लिए व्ययायाम कर सकें। अधिकतर ऐसी समस्या नौकरी पेशा लोगों को आती है। ऐसे ही समस्या से जूझ रहे लोगों के लिए आज हम इस लेख के माध्यम से ऐसा योगासन बताएंगे जो आप भोजन के तुरंत बाद कर सकते हैं। इस योगासन को वज्रासन के नाम से जाना जाता है। आइये जानते हैं भोजन के बाद योगासन इस बारे में विस्तार से।

एसिडिटी के लिए बेहतरीन योगासन – Acidity ke liye yogasana

भोजन के बाद योगासन- Bhojan ke baad Yogasana
भोजन के बाद योगासन- Bhojan ke baad Yogasana

Bhojan ke baad Yogasana

जैसे की आप ने सुना ही होगा की हमारे शरीर के लिए योगासन और व्यायाम कितने जरुरी है। हालाँकि ये दोनों ही खाने के बाद नहीं करने की सलाह दी जाती है। लेकिन एक ऐसा योगासन है जिसे आप खाने के बाद भी कर सकते हैं। बल्कि ये कहना ज्यादा बेहतर होगा की खाने के बाद इस आसन को करना अधिक लाभदायक होगा। जैसे की हमने बताया की योगासन को वज्रासन कहा जाता है। इस आसन vajrasan को करने से न केवल आप का पाचन तंत्र ठीक होगा बल्कि पेट सी जुडी अन्य बहुत सी परेशानियां भी दूर हो जाएंगी।

भोजन के बाद योगासन- Bhojan ke baad Yogasana
वज्रासन

हाई बीपी के लिए 8 योगासन – High BP Ke Liye 8 Yoga Poses

भोजन के बाद योगासन – वज्रासन से होने वाले फायदे

  1. वज्रासन में आप भोजन करने के तुरंत बाद बैठ सकते हैं।
  2. यदि आप भोजन करने के बाद 10 मिनट वज्रासन में बैठते हैं तो आप का भोजन अच्छी तरह से पच जाएगा।
  3. आप का पाचन तंत्र मजबूत होगा। जिस से आप को गला जलने , खट्टी डकारें आना आदि की समस्या दूर हो जाएगी।
  4. यदि आप को अपच और पेट साफ़ न होने की दिक्कत है तो आप के लिए ये आसन बेहद लाभदायक है।
  5. इस आसन से पैरों की मांसपेशियां मजबूत होती है साथ ही एड़ी और पिंडलियों के दर्द में काफी आराम मिलता है।
  6. वज्रासन को करने से एसिडिटी की समस्या और कब्ज़ आदि समस्याओं से छुटकारा मिलता है।
  7. यही नहीं वज्रासन में बैठने से आप की जठराग्नि बढ़ती है। जिस से आप को अच्छी भूख लगती है ।
  8. कुल मिलाकर आप को प्रत्यक्ष और परोक्ष रूप से स्वास्थ्य को बेहतर करने का फायदा होता है।
  9. वज्रासन के दौरान हमारी बैक बोन ( यानी रीढ़ की हड्डी ) और कंधे सीधे रखने होते हैं। इस की वजह से शरीर मजबूत होता है और पहले से ज्यादा सुडौल होता है।

हाइट बढ़ाने के लिए योगासन : Height Badhane Ke Liye Yogasan

वज्रासन की विधि

वज्रासन करने के लिए आप को ज्यादा कुछ नहीं करना है। ये बेहद आसान और सुविधाजनक आसन है जिसे छोटे से लेकर बड़े व्यक्ति भी आसानी से कर सकते हैं। और इस आसन से अधिक अधिक से लाभ उठा सकते हैं।

  • वज्रासन में बैठने के लिए आप को सबसे पहले अपने दोनों पैरों को पीछे की ओर मोड़ते हुए घुटनों के बल बैठना है।
  • ध्यान रखें आप के कंधे , कमर और पीठ सीधे होने चाहिए।
  • अपनी गर्दन को भी सीधा रखते हुए सामने की और मुँह करके बैठे।
  • अपने दोनों हाथों को घुटनो के ऊपर रखें या चाहें तो ध्यान मुद्रा में भी रख सकते है। जिस में आप को सुविधा हो वैसे बैठे।
  • अब आप को गहरी सांस लेते हुए आँखें बंद कर लें।

Bhojan ke baad Yogasana FAQ’s

खाना खाने के बाद कौन सा योग करना चाहिए ?

खाना खाने के बाद भोजन को सही तरीके से पचने के लिए आप बज्रासन कर सकते हैं। यह खाना खाने के बाद का ऐसा आसान है जिस से खाना सही तरीके से पचता है और पेट की समस्या नहीं होती है। इसे रोज अभ्यास करने से मांसपेशियों मजबूत होती है

खाना खाने के बाद करने वाले आसान कौन से हैं ?

खाना खाने के बाद इन आसनों को किया जा सकता है। वज्रासन, गोमुखासन, धनुष मुद्रा, माला मुद्रा। ये सभी आसान करने से पाचन शक्ति मजबूत होती है।

योग करने का सही समय क्या होता है ?

सुबह सूर्योदय होने पर खाली पेट योग करना बहुत फायदेमंद होता है या फिर आप शाम को सूर्य अस्त होते समय योग कर सकते हैं। आपका शरीर हमेशा इस से स्वस्थ रहेगा।

एक दिन में कितने घंटे योग करना चाहिए ?

प्रतिदिन आप अधिकतम 1 घंटे या फिर कम से कम 30 मिनट योग कर सकते हैं। रोज इतना योगाभ्यास करना आपको हमेशा स्वस्थ रखेगा।

Leave a Comment

Join Telegram