Bank overdraft facility: खाते में बैलेंस नहीं होने पर भी मिल जाएगी रकम, जानें कैसे?

Bank overdraft facility: दोस्तों आजकल के समय में पैसों की जरुरत किसी भी समय कहीं पर भी पड़ सकती है। ऐसे में यदि कभी आपके बैंक खाते में बैलेंस नहीं है और आपको पैसों की सख्त जरूरत है। तो आपको अपने मित्रों या रिश्तेदारों से कर्ज़ा लेना पड़ता है। लेकिन अब ऐसा नहीं है, जी हाँ अब यदि आपको संकट के समय पैसों की आवश्यकता है तो आपको किसी से मांगने की जरुरत नहीं है। अब आप ज़ीरो बैलेंस वाले खाते से भी पैसे निकाल सकते हैं। Bank overdraft facility सभी बैंकों के द्वारा प्रदान की जाती है। आज हम आपको Bank overdraft facility के विषय में सभी प्रकार की जानकारी देंगे। इसके विषय में जानकारी हासिल करने के लिए इस लेख को अंत तक जरूर पढ़ें।

बैंक ओवर ड्राफ्ट फैसिलिटी

दोस्तों यदि आपको पैसों की सख्त जरुरत है और आपके बैंक खाते में जीरो बैलेंस है तब भी आप ओवर ड्राफ्ट की सुविधा से बैंक खाते से पैसे निकाल सकते हैं। जी हाँ यह एक प्रकार की लोन फैसिलिटी है। प्रत्येक बैंक सरकारी हो या प्राइवेट ओवर ड्राफ्ट की सुविधा उपलब्ध कराता है। इसके अंतर्गत सभी ग्राहकों के लिए लिमिट तय की जाती है। लिमिट तय करते समय ही ब्याज की दर भी तय की जाती है। आपको यह लोन एक निश्चित समय अवधि के भीतर ही लौटना होता है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि यदि आपका जनधन योजना के तहत खाता है तो आप जीरो बैलेंस होने पर भी 10 हजार रूपये तक का ओवर ड्राफ्ट सुविधा ले सकते हैं।

बैंक ओवर ड्राफ्ट की ब्याज दर

दोस्तों जैसा कि हमने आपको बताया कि बैंक ओवर ड्राफ्ट की सुविधा एक प्रकार का लोन है। लेकिन यह लोन से काफी प्रकार से भिन्न है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि ओवर ड्राफ्ट की सुविधा में ब्याज दरें प्रत्येक ग्राहकों के लिए भिन्न भिन्न होती है। ये ब्याज दरें ग्राहकों और बैंक या फाइनेंशियल संस्थानों के बीच के संबंधों पर निर्भर करती हैं। जानकारी के लिए बता दें कि ग्राहक को ओवर ड्राफ्ट के अंतर्गत उपयोग की गयी राशि पर ही ब्याज का भुगतान करना होता है। जबकि बैंक लोन में ग्राहकों को पूरी राशि पर ही ब्याज दर का भुगतान करना होता है। अतः यह बैंक लोन से काफी भिन्न है।

कैसे लें बैंक ड्राफ्ट की सुविधा

दोस्तों यदि आप बैंक ओवर ड्राफ्ट की सुविधा लेना चाहते हैं तो आपको इसके अंतर्गत ठीक उसी प्रकार आवेदन करना होगा जिस प्रकार आप अन्य लोन के लिए आवेदन करते हैं। इसके लिए आप ऑनलाइन या ऑफलाइन दोनों माध्यम से आवेदन कर सकते हैं। अधिकांश बैंक ओवरड्राफ्ट सुविधा के लिए ली जाने वाली कुल राशि का एक प्रतिशत प्रोसेसिंग शुल्क के रूप में लेते हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कुछ खास ग्राहकों के लिए बैंक ड्राफ्ट की सुविधा स्वतः ही उपलब्ध कराता है। अतः आप किसी भी प्राइवेट या सरकारी बैंक में जाकर ओवर ड्राफ्ट के लिए आवेदन कर सकते हैं। इसमें ओवर ड्राफ्ट में लेने वाली राशि पहले ही तय की जाती है। साथ ही ब्याज दरें भी तय की जाती है।

ओवर ड्राफ्ट की खासियत

Leave a Comment