बाल संगोपन योजना डाउनलोड ऑनलाइन फॉर्म पीडीएफ (Bal Sangopan Yojana)

बाल संगोपन योजना : बाल संगोपन योजना का आरम्भ महाराष्ट्र सरकार द्वारा किया गया है, इस योजना के माध्यम से सरकार राज्य के एक अभिभावकीय (Single Parents) को उनके बच्चों की शिक्षा पूरी करने हेतु आर्थिक सहयोग प्रदान करती है, जिससे राज्य के सभी गरीब व आर्थिक तौर पर कमजोर परिवारों की आर्थिक समस्याओं के चलते उनके बच्चों की शिक्षा में किसी तरह की कोई कमी न आए, आज हम आपको Bal Sangopan Yojana से जुडी सभी जानकारी उपलब्ध करवाने जा रहे हैं, यदि आप भी अपने बच्चों को योजना का लाभ प्रदान करवाना चाहते हैं या बाल संगोपन योजना से जुडी सभी जानकारी जैसे योजना का उद्देश्य, लाभ, ऑनलाइन फॉर्म डाउनलोड प्रक्रिया आदि प्राप्त करना चाहते हैं, तो इस लेख को अंत तक अवश्य पढ़ें।

बाल-संगोपन-योजना

बाल संगोपन योजना क्या है ?

जैसा की आप सब जानते हैं, की महाराष्ट्र सरकार द्वारा राज्य के बच्चों की शिक्षा को बढ़ावा देने हेतु बहुत सी योजनओं का आरम्भ किया जाता है, जिससे राज्य के सभी बच्चे शिक्षित हो सकें इसके लिए सरकार ने वर्ष 2008 में बाल संगोपन योजना का आरम्भ किया, जिसे महिला व बाल विकास विभाग द्वारा चलाया जाता है, इस योजना के अंतर्गत सरकार राज्य के उन सभी एकल माता या पिता को उनके बच्चों की शिक्षा पूरी करने हेतु आर्थिक मदद के तौर पर 450 रूपये प्रति माह धनराशि प्रदान करती है, यह धनराशि उन सभी एकल अभिभावकों के बच्चों को बाल संगोपन योजन के माध्यम से प्रदान की जाती है, जिनके माता या पिता किसी कारण वर्ष अलग हो जाते हैं या तलाकशुदा हो जाते है, या माता या पिता में से किसी की मृत्यु हो जाती है, बच्चे अनाथ हो जाते हैं, या फिर एक दूसरे का त्याग करने के कारण उनके पास जीवन यापन हेतु कमाई का कोई जरिया नहीं होता और आर्थिक परेशानियों के कारण वह अपने बच्चो को शिक्षित नहीं कर पाते ऐसे सभी अभिभावक अपने बच्चों को योजना के माध्यम से लाभ पहुँचाकर उन्हें शिक्षित कर सकते हैं।

बाल संगोपन योजना के अंतर्गत आवेदन करने वाले लाभार्थियों को ही योजना का लाभ प्राप्त हो सकेगा, योजना के पात्रताओं को पूरा करने वाले जिन भी योग्य अभिभावकों ने अभी तक आवेदन नहीं किया वह योजन के माध्यम से अपने बच्चों को लाभ प्रदान करने हेतु, महिला व बाल विकास विभाग की आधिकारिक वेबसाइट womenchild.maharashtra.gov.in पर जाकर ऑनलाइन माध्यम से आवेदन कर सकते हैं।

Bal Sangopan Yojana : Details

योजना का नाम बाल संगोपन योजना
किनके द्वारा जारी की गई महाराष्ट्र सरकार द्वारा
साल 2021
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन
योजना के लाभार्थी राज्य के सभी एकल अभिभावकों के बच्चे
योजना का उद्देश्य बच्चों को शिक्षा पूर्ण करने हेतु आर्थिक सहयोग प्रदान करना
आधिकारिक वेबसाइट womenchild.maharashtra.gov.in

बाल संगोपन योजना का उद्देश्य

महाराष्ट्र बाल संगोपन योजना के माध्यम से राज्य सरकार आर्थिक रूप से कमजोर परिवार के बच्चों को शिक्षा पूर्ण करने हेतु आर्थिक सहयोग प्रदान करती है, जिससे उन सभी एकल अभिभावकों को योजना के माध्यम से अपने बच्चों की शिक्षा को पूर्ण करवाने हेतु योजना का लाभ मिल सकेगा जो अकेले अपने बच्चों की देखभाल करते हैं, परन्तु आर्थिक समस्याओं के कारण वह अपने बच्चों को शिक्षित नहीं करवा पाते, राज्य में अभी तक Bal Sangopan Yojana के माध्यम से 100 परिवारों को इस योजना के लाभ प्राप्त हो चुका है, यह लाभ राज्य के सभी पात्र बच्चों को प्राप्त हो सके और उनकी स्थिति में भी सुधार आ सके यही राज्य सरकार का मुख्य उद्देश्य है। सरकार के द्वारा शिक्षा के क्षेत्र में एक विशेष बढ़ावा देने के लिए कई प्रयास किये जाते है। उन्ही में से इस योजना के माध्यम से अब आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के परिवार के बच्चो को अपनी शिक्षा हेतु किसी भी प्रकार की चिंता करने की जरूरत नहीं है। योजना के अंतर्गत मिलने वाली सुविधाओं से वह अपनी शिक्षा को पूरा करने में सक्षम हो पाएंगे।

महाराष्ट्र बाल संगोपन योजना से जुड़े लाभ

योजना के अंतर्गत दिए जाने वाले लाभ आवेदक नीचे दी गई जानकरी को पढ़कर प्राप्त कर सकते हैं।

  • बाल संगोपन योजना के माध्यम से सरकार सभी एकल माता-पिता के बच्चों की शिक्षा पूर्ण करने हेतु आर्थिक सहयोग प्रदान करेगी।
  • महाराष्ट्र बाल संगोपन योजना को महिला व बाल विकास विभाग द्वारा चलाया जाता है।
  • योजना के अंतर्गत आवेदकों के बच्चों को 425 रूपये प्रति माह धनराशि प्रदान की जाएगी।
  • आवेदक ऑनलाइन माध्यम से घर बैठे आवेदन कर सकते हैं।
  • इस योजना का लाभ अब तक राज्य के 100 परिवारों को दिया जा चुका है।
  • योजना का लाभ प्राप्त कर आवेदक बच्चे शिक्षित हो सकेंगे।
  • राज्य के 1 से 18 वर्ष तक के बच्चों को योजना के अंतर्गत यह लाभ मिलता रहेगा।
  • योजना के माध्यम से आर्थिक रूप से कमजोर परिवार के बच्चों को शिक्षा के प्रति बढ़ावा मिल सकेगा।
  • कमजोर परिवार के सभी बच्चो को इस योजना के अंतर्गत एक बेहतर शिक्षा हेतु सहायता प्राप्त होगी। जिससे वह अपने जीवन की दिशा को एक नए मुकाम देकर अपने भविष्य के सपनो को साकार कर सकते है।

Bal Sangopan Yojana से जुडी पात्रता

बाल संगोपन योजन की पात्रताओं को पूरा करने वाले आवेदक ही योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकेंगे, इसके लिए वह नीचे दी गयी जानकारी को पढ़कर योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकते हैं।

  • आवेदक महाराष्ट्र के स्थाई निवाई होने चाहिए।
  • आवेदक माता या पिता जो अकेले अपने बच्चों की देख-भाल करते हैं और आर्थिक रूप से कमजोर हैं, उन सभी के बच्चों को योजना का लाभ प्राप्त हो सकेगा।
  • योजना के माध्यम से राज्य के सभी अनाथ बच्चों, आर्थिक तौर पर कमजोर बीमार अभिभावक, या तलाकशुदा अभिभावकों के बच्चों को योजना का लाभ मिल सकेगा।
  • यदि आवेदक बच्चों की आयु 1 से 18 वर्ष के बीच हो तो ही वह योजना के आवेदन हेतु पात्र होंगे।
  • योजना के आवेदन हेतु आवेदकों के पास सभी आवश्यक दस्तावेज होना अनिवार्य है।
  • अन्य राज्य के आवेदक महाराष्ट्र बाल संगोपन योजना के आवेदन हेतु पात्र नहीं होंगे।

योजना के आवेदन हेतु आवश्यक दस्तावेज

योजन के अंतर्गत आवेदन हेतु आवेदक के पास सभी आवश्यक दस्तावेज होना अनिवार्य है, बिना पूरे दस्तावेजों के आवेदन प्रक्रिया पूरी नहीं हो सकेगी, इसलिए आवेदक Bal Sangopan Yojana से जुड़े सभी आवश्यक दस्तावेजों की जानकारी प्राप्त कर आवेदन करें।

  • आवेदक का आधारकार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • परिवार की आय प्रमाण पत्र
  • राशन कार्ड
  • आवेदक बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र
  • बैंक की पासबुक
  • यदि अभिभावक की मृत्यु हो जाए तो उनका मृत्यु प्रमाण पत्र
  • अभिभावक की पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ

बाल संगोपन योजना की आवेदन प्रक्रिया

बाल संगोपन योजना के अंतर्गत आवेदन करने हेतु आवेदक नीचे दी गयी प्रक्रिया को पढ़कर योजना के लाभ हेतु आवेदन कर सकते हैं।

  • सबसे पहले आवेदक को इसकी आधिकारिक वेबसाइट womenchild.maharashtra.gov.in पर जाना होगा। बाल-संगोपन-योजना-ऑफिसियल
  • अब आपके सामने होम पेज खुल जाएगा।
  • यहाँ होम पेज पर आपको अप्लाई ऑनलाइन वाला विकल्प दिखाई देगा जिसमे आपको क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने आवेदन फॉर्म खुलकर आ जाएगा।
  • फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी आपको ध्यानपूर्वक भरनी होगी।
  • इसके बाद माँगे गए सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अपलोड करके आपको उसे सबमिट कर देना होगा।
  • जिसके बाद आपकी आवेदन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

स्कीम से जुडी अन्य जानकारी देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आवेदक इसकी आधिकारिक वेबसाइट पर जाएँ।
  • यहाँ आपके सामने होम पेज खुल जाएगा।
  • होम पेज पर आपको स्कीम्स का विकल्प दिखाई देगा जिस पर आपको क्लिक करना होगा।
  • इस पर क्लिक करके आपके सामने बहुत से विकल्प सामने आ जाएँगे।
  • जिसमे आपको बाल संगोपन योजना वाले लिंक पर क्लिक करना होगा। बाल-संगोपन-योजना
  • जिसके बाद आप योजना से जुडी जानकारी प्राप्त कर सकेंगे।
बाल संगोपन योजना से जुड़े प्रश्न/उत्तर
बाल संगोपन योजना का आरम्भ कब और किसके द्वारा किया गया ?

बाल संगोपन योजना का आरम्भ महाराष्ट्र सरकार द्वारा राज्य में वर्ष 2008 में आरम्भ किया गया।

Bal Sangopan Yojana के लाभ हेतु कहाँ आवेदन किया जा सकता है ?

Bal Sangopan Yojana के लाभ हेतु आप इसकी आधिकारिक वेबसाइट womenchild.maharashtra.gov.in पर जाकर आवेदन कर सकते हैं।

इस योजना को जारी करने हेतु सरकार का मुख्य उद्देश्य क्या है ?

इस योजना को जारी करने हेतु सरकार का मुख्य उद्देश्य योजना के माध्यम से बच्चों की शिक्षा में बढ़ावा देना है, जिससे राज्य में उन सभी बच्चो को शिक्षा प्राप्त हो सकें जिनकी परवरिश एकल माता या पिता करते हों या उनके अभिभावक किसी बीमारी या अस्पताल में हो, तलाकशुदा हो या उनकी मृत्यु हो चुकी हो ऐसे अभिभावक जो अपनी आर्थिक परेशानियों के कारण अपने बच्चों को शिक्षित नहीं कर पाते उन्हें योजना के माध्यम से बच्चों की शिक्षा हेतु आर्थिक सहयोग प्रदान करना है।

योजना के अंतर्गत आवेदक बच्चों के अभिभावकों को क्या-क्या लाभ प्रदान किया जाएगा ?

योजना के अंतर्गत आवेदक बच्चों के अभिभावकों को बच्चों की शिक्षा हेतु 450 रूपये प्रति महीने धनराशि प्रदान की जाएगी, साथ ही यह धनराशि बच्चों को तब तक मिलती रहेगी जब तक वह 18 वर्ष के ना हो जाएँ।

इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने वाले बच्चे की आयु कितनी निश्चित की गई है ?

इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने वाले बच्चे की आयु 1 से 18 वर्ष नश्चित की गई है।

Bal Sangopan Yojana के अंतर्गत आवेदन हेतु किन-किन दस्तावेजों की आवश्यकता पड़ेगी ?

इस योजना के अंतर्गत आवेदन हेतु आवेदक के पास उसका आधारकार्ड, निवास प्रमाण पत्र, परिवार की आय प्रमाण पत्र, राशन कार्ड, आवेदक बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र, बैंक की पासबुक, यदि अभिभावक की मृत्यु हो जाए तो उनका मृत्यु प्रमाण पत्र, अभिभावक की पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ आदि दस्तावेज होना अनिवार्य है।

Leave a Comment