आर्मी भर्ती अग्निपथ योजना क्या है – Agneepath Scheme Army

आर्मी भर्ती अग्निपथ योजना क्या है – भारतीय सेनाओं में भर्ती होने के लिए केंद्र सरकार के रक्षा मामलों की कैबिनेट कमेटी के माध्यम से ‘अग्निपथ योजना’ (Agneepath Recruitment Scheme) लॉन्च की गयी है। इस योजना के अंतर्गत तीनों सेनाओं में युवाओं को जोड़ना और उन्हें भविष्य के लिए कुशल नागरिक बनाना है। अग्निपथ योजना को लेकर रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है की इस योजना के तहत सेना को यूथफुल बनाने का लक्ष्य रखा गया है। इस मौके पर तीनों सेनाओं के अध्यक्षों ने भी इस योजना के कई लाभ भी बताये है। Agneepath Scheme के जरिये सेना में भर्ती होने वाले अग्रिवीरों के लिए आर्मी चीफ जनरल मनोज पांडे ने कहा है की जवानों को इंश्योरेंस स्कीम के साथ-साथ भविष्य में नौकरी के अवसर एवं अन्य प्रकार की सुविधाएँ लेने का मौका मिलेगा।

इस संबंध में रक्षामंत्री राजनाथ सिंह जी ने तीनों सेनाओं के अध्यक्षों की उपस्थिति में अग्निपथ योजना की घोषणा की है। रक्षामंत्री जी के द्वारा कहा गया है की अग्निपथ योजना से भारतीय सेनाओं में क्रान्तिकारी बदलाव आएगा। साथ ही युवाओं के भविष्य और देश की अर्थव्यवस्था में बेहतर सुधार होगा।

आर्मी भर्ती अग्निपथ योजना क्या है - Agneepath Scheme Army
आर्मी भर्ती अग्निपथ योजना क्या है – Agneepath Scheme Army

आर्मी भर्ती अग्निपथ योजना क्या है ?

भारत सरकार के द्वारा सेना, नौसेना और वायुसेना में सैनिकों की भर्ती के लिए एक नई अग्निपथ योजना की घोषणा की है। इस योजना के अंतर्गत सेना में भर्ती होने वाले युवाओं को अग्रिवीर कहा जायेगा। इस योजना के अंतर्गत 4 वर्ष की अवधि के लिए सैनिकों की भर्ती होगी। सुरक्षा मामलों की मंत्रिमंडल समिति (सीसीएस) की बैठक में इस योजना को मंजूरी मिलने के बाद मीडिया के समक्ष रक्षामंत्री जी के द्वारा Agneepath Scheme की घोषणा की गयी।

अग्निपथ योजना को लेकर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि इस योजना के अंतर्गत निकले जवानों को बहुत सारे राज्यों ,पब्लिक सेक्टर अंडरटेकिंग ,मंत्रालयों में नौकरी में प्राथमिकता दी जाएगी। देश के आईटीआई और अन्य शिक्षण संस्थानों से युवाओं को अग्निपथ योजना के लिए भर्ती किया जायेगा।

आर्मी भर्ती अग्निपथ योजना क्या है - Agneepath Scheme Army
आर्मी भर्ती अग्निपथ योजना क्या है – Agneepath Scheme Army

अग्निवीर बनने की योग्यता क्या होगी?

  • अग्निपथ योजना में महिला एवं पुरुष दोनों को शामिल किया जायेगा।
  • 17.5 साल से लेकर 21 साल तक के युवा इस सेवा में शामिल होने के लिए योग्य माने जायेंगे।
  • मौजूदा समय में सेना के जो मेडिकल और फिजिकल स्टैण्डर्ड है वही मान्य होंगे।
  • 10वीं और 12वीं पास कर चुके युवा सैन्य बलों की नियम और शर्तो के अनुसार अग्रिवीर बन सकते है।

Agneepath Scheme के जरिये 10 हफ्ते से लेकर 6 माह तक के लिए भर्ती होने वाले जवानों को ट्रेनिंग दी जायेगी। इन जवानों को हेलोग्राफ़िक्स ,नाईट ,फायर कंट्रोल सिस्टम से लैस किया जायेगा। साथ ही हैंड हेल्ड टारगेट सिस्टम भी जवानों के हाथ में दिए जायेंगे।

Agneepath Scheme Army में चार साल नौकरी के बाद क्या होगा?

अग्निपथ योजना के अंतर्गत 4 साल तक भर्ती होने वाले जवान काम करेंगे। चार साल की सेवा के बाद अग्रिवीर सेना की नौकरी छोड़ देंगे। सेना में सेवा पूरी होने के बाद समाज में एक स्किल्ड नागरिक के तौर पर अनुशासित जीवन जी सकेंगे। मेरिट के अनुसार सेना की जरूरत के हिसाब से 25 प्रतिशत अग्रिवीर को रेगुलर कैडर में समायोजित कर लिया जायेगा। साथ ही उन्हें अन्य तरह की नौकरियों में भी प्राथमिकता दी जाएगी।


Leave a Comment