7th pay Commission Pay Level 3 Pay Matrix, जानें क्या है जिससे बढ़ेगी सैलरी! जानिए कैसे मिलेगा आपको फायदा?

7th pay Commission Pay Level 3: दोस्तों जैसा कि आप जानते ही हैं कि केंद्रीय कर्मचारियों का स्टेटस ग्रैंड पे के आधार पर तय किया जाता है। लेकिन अब ऐसा नहीं है। अब इसमें कुछ बदलाव किया गया है। अब केंद्रीय कर्मचारियों का स्टेटस पे मेट्रिक्स के आधार पर तय किया जायेगा। इसके साथ साथ कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में बढ़ौतरी होने से कर्मचारियों की सैलरी में बढ़ौतरी होगी। यदि आप सरकारी कर्मचारी हैं तो आपके जानना बहुत जरुरी है कि क्या है पे मैट्रिक्स और बदलाव हुए हैं। आज हम आपको इस लेख के माध्यम से इसके बारे में सभी प्रकार की जानकारी देंगे। यदि आप इसके बारे में जानकारी हासिल करना चाहते हैं तो आप इस लेख को अंत तक जरूर पढ़ें।

क्या है Pay Matrix

दोस्तों आपको बता दें कि पहले केंद्रीय कर्मचारी का स्टेटस ग्रेड पे के आधार पर तय किया जाता था। लेकिन अब सरकारी कर्मचारियों का स्टेटस पे मैट्रिक्स के आधार पर तय किया जायेगा। दरअसल सातवें पे मैट्रिक्स के तहत लेवल तीन से बेसिक पे स्ट्रक्चर न्यूनतम 21700 रुपये से शुरू होकर 40 इंक्रीमेंट्स के साथ 69100 रुपये तक जाता है। इसके अंतर्गत आप अपनी सैलरी में होने वाली बढ़ौती या कटौती की जानकारी पहले ही चेक कर पाएंगे। साथ ही साथ कर्मचारी अपने वेतन का स्टेटस भी चेक कर पाएंगे।

कर्मचारियों की सैलरी बढ़ेगी

पे मैट्रिक्स के साथ साथ सभी कर्मचारियों की सैलरी में भी बदलाव किया जायेगा। अब कर्मचारियों की सैलरी पे मैट्रिक्स के आधार पर तय की जाएगी। यह बदलाव 7वे वेतन आयोग के सिफारिशों के आधार पर किया गया। इसी के साथ यह बदलाव महंगाई भत्ता में भी किया गया है। अब कर्मचारियों की न्यूनतम सैलरी 18000 तक कर दी गयी है। जिसमे महंगाई भत्ता भी जोड़ा जाता है।

टेबल के जरिये होती है गणना

सभी कर्मचारियों की पे मैट्रिक्स और सैलरी की गणना एक टेबल के माध्यम से की जाती है। प्रत्येक विभागों के लिए पे मैट्रिक्स की गणना भिन्न भिन्न होती है। जिसके आधार पर उन्हें सैलरी प्रदान कराई जाती है। अभी हुए बदलाव के अनुसार सभी कर्मचारियों के लिए इसमें काफी फायदा है। आपको बता दें कि AICPI के तहत ही सभी कर्मचारियों की सैलरी की गणना की जाती है। जिसके अंतर्गत महंगाई भत्ते की गणना भी की जाती है।

जानिए कैसे होगी सैलरी में बढ़ोतरी

जैसा कि हमने आपको बताया कि सैलरी में मिलने वाले महंगाई भत्ते में बढ़ौत्तरी की जा रही है। तो इससे कर्मचारियों के वेतन में भी बढ़ौतरी होगी। आईये आपको न्यूनतम सैलरी और अधिकतम सैलरी में होने वाली बढ़ोतरी के बारे में जानकारी देते हैं।

सरकारी कर्मचारी की न्यूनतम बेसिक सैलरी पहले 7000 थी। लेकिन अब इसे बढ़ा दिया गया है। अब एक कर्मचारी की न्यूनतम सैलरी 18 हजार रूपये होगी। अर्थात अब यदि बेसिक सैलरी की गणना की जाती है तो यह गणना 18 हजार रूपये के तहत की जाएगी। वहीँ देखा जाए तो सरकारी कर्मचारी की अधिकतम सैलरी को बढाकर 56100 रूपये कर दिए हैं। तो अब यदि अधिकतम सैलरी की गणना की जाती है तो यह गणना 56100 रूपये के तहत की जाएगी।

Leave a Comment