7th Pay Commission: केंद्रीय कर्मचारियों को जल्द मिलेगी खुशखबरी, डीए के साथ एचआरए में भी इजाफे का एलान संभव

नए साल में केंद्रीय कर्मचारियों की बल्ले-बल्ले रहने वाली है क्यूंकि केंद्र सरकार द्वारा उन्हें महँगाई भत्ते के साथ-साथ आवास भत्ते का भी लाभ दिया जा सकता है. सरकार के इस कदम से कर्मचारियों की बेसिक सैलरी में बढ़ोतरी होगी साथ ही उन्हें कई अन्य भत्तों का भी लाभ मिल सकता है. इस सम्बन्ध में वित मंत्रालय द्वारा कर्मचारियों की मांगो पर विचार किया जा रहा है जिस पर जल्द ही मंत्रालय मुहर लगा सकता है. इसके बाद कर्मचारियों के वेतन में वृद्धि का रास्ता साफ़ हो जायेगा. आवास भत्ते में बढ़ोतरी से केंद्र के 30 लाख से ज्यादा कर्मचारियों को लाभ मिलेगा.

एचआरए स्लैब में की जाएगी वृद्धि

अभी तक केंद्र सरकार द्वारा कर्मचारियों को उनके श्रेणी के अनुसार ही एचआरए स्लैब में रखा जाता है. सरकार द्वारा वर्तमान में इसके तहत कर्मचारियों को 9 फ़ीसदी, 18 फ़ीसदी और 27 फ़ीसदी के एचआरए स्लैब के अंतर्गत लाभ प्रदान किया जा रहा है. रिपोर्ट्स की माने तो सरकार इसमें 3 फ़ीसदी तक की बढ़ोतरी के बारे में विचार कर रही है जिसके बाद इन कर्मियों को क्रमशः 10 फ़ीसदी, 20 फ़ीसदी और 30 फीसदी एचआरए स्लैब के अंतर्गत रखा जायेगा. इसके अतिरिक्त सरकार द्वारा साफ़ किया गया है की यह वृद्धि तभी होगी जब कर्मियों को मिलने वाला महंगाई भत्ता में बढ़ोतरी 50 फ़ीसदी से ज्यादा हो. इससे कर्मचारियों को वेतन में वृद्धि का लाभ मिलेगा.

कर्मचारियों द्वारा लम्बे समय से एचआरए स्लैब में बदलाव की मांग की जा रही थी जिस पर सरकार द्वारा जल्द ही फैसला लिए जाने की सम्भावना है. इस बारे में वित्त मंत्रालय द्वारा मंत्रणा की जा रही है.

महँगाई भत्ते में भी होगी बढ़ोतरी

हाउस रेंट अलाउंस (एचआरए) के अलावा केंद्र सरकार द्वारा कर्मियों को महँगाई भत्ते में भी बढ़ोतरी की जा सकती है. गौरतलब है की पिछले वर्ष भी जुलाई माह में केंद्र ने महँगाई भत्ते को 28 फ़ीसदी किया था जिसे की जल्द ही सरकार द्वारा 34 फ़ीसदी किया जा सकता है. अगर सरकार द्वारा डीए में बढ़ोतरी की जाती है तो यह 50 फ़ीसदी के पार पहुंच जायेगा जिससे की कर्मचारियों को हाउस रेंट अलाउंस (एचआरए) में वृद्धि का रास्ता साफ़ हो जायेगा. साथ ही ट्रैवलिंग अलाउंस में भी बढ़ोतरी के आसार है.

मिनिमम बेसिक सैलरी में होगा 6,000 से ज्यादा इजाफा

जल्द ही दिसंबर माह के महँगाई के आँकड़े आने वाले है ऐसे में विशेषज्ञ अनुमान लगा रहे है को महँगाई भत्ता 34 फ़ीसदी तक पहुंच जायेगा. वर्तमान में केंद्र द्वारा कर्मचारियो को मिनिमम 18,000 रुपए की बेसिक सैलरी दी जाती है. अगर महँगाई भत्ता 34 फ़ीसदी तक पहुँचता है तो इसमें हर माह 540 रुपये की बढ़ोतरी होगी यानी की सालाना 6120 रुपये की बढ़ोतरी. वही अधिकतम सैलरी में भी 1707 रुपये की वृद्धि दर्ज की जाएगी यानी की सालाना सैलरी में पूरे 20,484 रुपये की बढ़ोतरी. सरकार द्वारा फिटमेंट फैक्टर पर भी जल्द ही कोई बड़ा फैसला लिया जा सकता है.

Leave a Comment